Notifications
×
Subscribe
Unsubscribe

PGDM Course Details,लाभ,पात्रता,एंट्रेंस,फीस,नौकरी,सैलरी…

क्या आप मैनेजमेंट में अपना भविष्य संवारने चाहते हैं? अगर ऐसा है तो आज की पोस्ट आपके लिए जानकारीपूर्ण होने वाली है क्योंकि, इंसमे हम एक ऐसी मैनेजमेंट कोर्स के बारे में चर्चा करेंगे जिसे MBA Course की तरह ही महत्व दिया जाता है।

जी हां उस कोर्स का नाम है Post Graduate Diploma in Management यानी PGDM. यह दो साल की पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा कोर्स है। जो स्टूडेंट्स किसी कारण से एमबीए नहीं कर पाए है वह PGDM Course को कर सकते है।

एमबीए और पीजीडीएम कोर्स में कुछ खास अंतर नहीं है, दोनों कोर्स का वैल्यू और करियर आस्पेक्ट समान है। इंसमे सिर्फ एक अंतर है जिसके बारे में आगे चर्चा करेंगे।

इसके अलावा हम जानेंगे कि PGDM का फूल फॉर्म, PGDM क्या है, पीजीडीएम कोर्स करने के लाभ, पीजीडीएम कोर्स की पात्रता, पीजीडीएम कोर्स की फीस, PGDM कैसे करे, पीजीडीएम के सिलेबस, समयावधि, बेस्ट कॉलेज, पीजीडीएम वेतन, PGDM Vs MBA, इत्यादि Pgdm course details in hindi में।

PGDM Course Details in Hindi (PGDM kya hai)

PGDM course details, PGDM course details in hindi
PGdM Course Details

पीजीडीएम का फूल फॉर्म है पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन मैनेजमेंट हिंदी में जिसे ‘प्रबंधन में स्नातकोत्तर डिप्लोमा’ कहते है। यह दो साल की कोर्स है। इंसमे टोटल चार सेमेस्टर देने पड़ते, प्रत्येक छह महीने बाद यानी साल में दो बार एग्जाम देना होता।

पीजीडीएम कोर्स को ऑटोनोमस बी-स्कूल द्वारा संचालित की जाती है जिसे AICTE द्वारा मान्यता प्राप्त होती है। इस कोर्स को बनाने का मुख्य उद्देश्य है इंडस्ट्रीज और बिजनेस मैनेजमेंट को सुरक्षित और सुदृढ बनाने के लिए स्किलफूल पेशेवरों का निर्माण करना।

इस कोर्स की पढ़ाई के लिए उम्मीदवारों को यूजीसी के मान्यता प्राप्त किसी कॉलेज से ग्रेजुएशन या इसके समकक्ष कोई डिग्री पास करना होगा। इसके बाद डायरेक्ट/मेरिट और एंट्रेंस एग्जाम के बेसिस पर एडमिशन ले सकते है।

पीजीडीएम एक पेशेवर कोर्स है जिसमे विद्यार्थी अपने रुचि के अनुसार स्पेशलाइजेशन कर सकते है। कोर्स पूरा होने के बाद उम्मीदवारों के लिए मैनेजमेंट की क्षेत्र में सुनहरे भविष्य रचना करने की अवसर मिलते है।

आशा करते है आपको समझ आ गया होगा कि पीजीडीएम क्या है। अब आइये जानते है कि पीजीडीएम कोर्स करने के लाभ क्या है, और पीजीडीएम कोर्स के पात्रता क्या है उसके बारे में।

पीजीडीएम कोर्स करने के लाभ (PGDM Course के फायदे)PGDM kya hai

पीजीडीएम कोर्स करने की कई सारे फायदे है जिनमे से कुछ बिंदुओं के बारे में हमने आगे चर्चा की है;

करियर के बेहतर अवसर: पीजीडीएम की कोर्स करने वालों के लिए अपार संभावनाएं है मैनेजमेंट की क्षेत्र में। हमारे देश के अलावा विदेशों में ऐसी उम्मीदवारों की मांग काफी अच्छी है।

पर्सनालिटी डेवलपमेंट: इस कोर्स में विद्यार्थियों का पर्सनालिटी डेवलपमेंट काफी बेहतर होती है। इंसमे कम्युनिकेशन स्किल्स से लेकर लीडरशिप करने की ट्रेनिंग सारे ट्रेनिंग प्रदान की जाती है।

डेवेलोप नई स्किल्स: लीडरशिप, कम्युनिकेशन स्किल्स के अतिरिक्त और भी कई सारे स्किल्स डेवेलोप करवाई जाती है, जिनमे से प्लानिंग, टीम मैनेजमेंट, एनालिटिकल स्किल्स आदि महत्वपूर्ण है।

हाई सैलरी पैकेज: ऐसे उम्मीदवारों को कॉरपोरेट क्षेत्र में हाई सैलरी पैकेज प्रदान की जाती है। अगर कोई विदेश में काम करते है तो उन्हें बहुत ही आकर्षक सैलरी पैकेज मिलती है।

इंडस्ट्रीज की आवश्यकतायें पूर्ति: सिर्फ ऑटोनोमस इंस्टीट्यूट ही पीजीडीएम कोर्स उपलब्ध करवाते है। इसलिए इसे इंडस्ट्रीज के आवश्यकताओं के अनुसार समय समय पर बदलाव किया जाता।

जबकि MBA पाठ्यक्रम पुस्तक के अनुसार चलते हैं, PGDM पाठ्यक्रम इसके विपरीत अधिक शिक्षार्थी-उन्मुख हैं।

बिल्डिंग कॉर्पोरेट नेटवर्किंग: इस कोर्स को करने से आपको अलग अलग सेक्टर, इंडस्ट्रीज, लोग के साथ जानपहचान बढ़ेगा इससे आपकी नेटवर्क और भी स्ट्रांग बनेंगे।

एजुकेशन लोन में आसानी: पीजीडीएम कोर्स को AICTE द्वारा संचालित किया जाता है इसलिए एजुकेशन लोन लेने में कोई दिक्कत नहीं होती, आसानी से कम ब्याज दर पर एजुकेशन लोन प्राप्त हो जाती है।

अच्छी प्लेसमेंट के अवसर: कोर्स पूरा होने के पश्चात देश तथा विदेशों की बड़े बड़े संस्थानों द्वारा कॉलेज में प्लेसमेंट आयोजित किया जाता है। इसलिए जॉब मिलना काफी आसान हो जाते है।

पीजीडीएम कोर्स पात्रता (PGDM ke liye Qualification)

पीजीडीएम कोर्स करने वाले उम्मीदवारों को निम्नलिखित पात्रता मानदंड से गुजरना होगा जिसे AICTE द्वारा तैयार किया गया है:

• उम्मीदवारों को तीन साल की ग्रेजुएशन पूरा करना होगा यूजीसी के मान्यता प्राप्त किसी कॉलेज से न्यूनतम 50 प्रतिशत नंबर से। आरक्षण वर्ग के उम्मीदवारों के लिए 5 नंबर की छूट दी जाती है। अगर कोई IIM जैसे देश की बड़े बड़े इंस्टीट्यूट में एडमिशन लेना चाहें तो उन्हें बैचलर डिग्री में कम से कम 60 प्रतिशत नंबर प्राप्त करना होगा।

• पीजीडीएम कोर्स करने वाले उम्मीदवारों को चुना जाता है उनके पिछले शैक्षणिक प्रदर्शन जैसे; 10वी, 12वी, ग्रेजुएशन और एंट्रेंस एग्जाम के स्कोर के अनुसार। पीजीडीएम कोर्स में एडमिशन के लिए कुछ एंट्रेंस एग्जाम के नाम यहां दी गई है; CAT/GMAT/XAT/CMAT इत्यादि।

• पीजीडीएम कोर्स करने के लिए उम्मीदवारों के आयु का कोई लिमिट नहीं है। अगर किसी मे ऊपर बताई गई पात्रता मानदंड है तो वह इस कोर्स के लिए योग्य माना जाता है।

यह पढ़े: होटल मैनेजमेंट कोर्स इनफार्मेशन

PGDM Kaise Kare

अगर आप मैनेजमेंट की क्षेत्र में अपना भविष्य बनाने का रुचि रखते है तो पीजीडीएम कोर्स आपके लिए एक सुनहरे अवसर प्रदान करते है। निम्नलिखित स्टेप्स में बताई गई है कि PGDM Course कैसे किया जाता है;

कंपलीट 10+2: आप किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से अपना 10+2 की पढ़ाई कर ले। इसमें किसी निश्चित सब्जेक्ट चयन करने का कोई आवश्यकता नहीं है, आप 10+2 में साइंस/आर्ट्स/कॉमर्स कोई भी स्ट्रीम चुन सेक्टए है।

ग्रेजुएशन पूरा करे: आप अपने जरूरतों के अनुसार किसी भी एक सब्जेक्ट से ग्रेजुएशन पूरा करे किसी अच्छी कॉलेज से। ग्रेजुएशन में कोशिश करे ज्यादा से ज्यादा नंबर लाने की क्योंकि, आपके ग्रेजुएशन का नंबर महत्वपूर्ण भूमिका पालन करते है पीजीडीएम कोर्स में एडमिशन के लिए।

पीजीडीएम का एप्लीकेशन फॉर्म भरे: हर साल पीजीडीएम कोर्स में एडमिशन के लिए एप्लीकेशन फॉर्म छोड़ी जाती है उसे भरना होगा। फॉर्म भरने के लिए कॉलेज की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।

वहां अपने नाम, पता, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, शैक्षणिक योग्यता आदि सही से दर्ज करना होगा और जो भी दस्तावेज की आवश्यकता पड़े उसके स्कैन कॉपी अपलोड करना होगा। इसके पश्चात आवेदन शुल्क जमा करके फॉर्म को सबमिट करके उसके प्रिंट आउट निकाल लेना होगा।

एंट्रेंस एग्जाम: एप्लीकेशन भरने की कुछ दिन पश्चात एंट्रेंस एग्जाम लिया जाता है। इसके लिए नेशनल और राज्य स्तर पर कुछ एंट्रेंस एग्जाम ली जाती है जैसे कि; CAT, XAT, MAT, CMAT, GMAT, NMAT, ATMA, UPCET, HPCET, Karnataka PGCET, इत्यादि। इन सभी एग्जाम में मुख्यतः क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड, वर्बल एबिलिटी एंड रीडिंग कॉम्प्रीहेंशन, डाटा इंटरप्रेटेशन, लॉजिकल रीजनिंग जैसे टॉपिक कवर किया जाता है।

शॉर्टलिस्टिंग: एग्जाम के बाद एक से दो हप्ते बाद पास होने वाले उम्मीदवारों का शॉर्टलिस्टिंग किया जाएगा और लिस्ट के अनुसार पर्सनल इंटरव्यू के लिए बुलाया जाएगा। अगर सारे चरण सही से फूल फील होती है तो आगे की एडमिशन के लिए भेज जाएगा।

दस्तावेजों की सत्यापन और एडमिशन: सभी चरणों मे सफलतापूर्वक उत्तीर्ण होने वाले उम्मीदवारों का दस्तावेजों की सत्यापन किया जाएगा। अगर सारे चीज़ सही रहता है तो एडमिशन शुल्क जमा करके एडमिशन लेना होगा।

PGDM Course के स्पेशलाइजेशन

पीजीडीएम कोर्स में विद्यार्थी अपने रुचि और आवश्यकताओं के अनुसार स्पेशलाइजेशन लर सेक्टए है। पीजीडीएम कोर्स के स्पेशलाइजेशन के बारे में आगे बताई गई है;

• पीजीडीएम इन ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट

• पीजीडीएम इन एंटरप्रेन्योरशिप

• पीजीडीएम इन इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी

• पीजीडीएम इन सेल्स एंड मार्केटिंग

• पीजीडीएम इन डिजिटल मार्केटिंग

• पीजीडीएम इन हॉस्पिटैलिटी मैनेजमेंट

• पीजीडीएम इन बैंकिंग एंड फाइनेंस मैनेजमेंट

• पीजीडीएम इन सप्लाई चैन मैनेजमेंट

Best PGDM Colleges in India

इंडिया में सैकड़ों कॉलेज है जहां पीजीडीएम की कोर्स करवाई जाती है परंतु ऐसे प्रोफेशनल कोर्स हमेशा किसी प्रशिद्ध इंस्टिट्यूट से ही करना चाहिए क्योंकि, कोर्स कंपलीट होने के पश्चात प्लेसमेंट में कॉलेज एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है।

• XLRI-Xavier School of Management, Jamshedpur, Jharkhand

• Institute of Management Technology, Ghaziabad, Uttar Pradesh

• AIMS Institutes, Bangalore, Karnataka

• School of Business Management SVKM’s Narsee Monjee Institute of Management Studies, Mumbai, Maharashtra

• Indian Institute of Social Welfare and Business Management, Kolkata, West Bengal

• New Delhi Institute of Management, Delhi

• PSG College of Technology, Coimbatore, Tamil Nadu

• International Management Institute, Delhi

• Birla Institute of Management Technology, Greater Noida, Uttar Pradesh

• Institute of Rural Management, Anand, Gujarat

पीजीडीएम कोर्स फीस (PGDM Course ki fees)

कोर्स की फीस अलग अलग कॉलेज में अलग अलग होती है। हर कॉलेज अपने रेपुटेशन और दूसरी सुविधाओं के अनुसार फीस लेते है। यदि पीजीडीएम कोर्स की औसतन फीस देखा जाए तो ₹1,50,000 से ₹25,00,000 तक होती है।

यहां पर जो भी फीस की रकम बताई गई है यह कोई निश्चित रकम नहीं है, सिर्फ औसतन फीस है। सटीक कोर्स फीस जानने के लिए आप कॉलेज की वेबसाइट चेक कर सकते है।

PGDM कोर्स की समयावधि

पीजीडीएम कोर्स की समयावधि है 2 साल जसमे 4 सेमेस्टर देने होते, प्रत्येक छह महीने के अंतराल में। प्रत्येक सेमेस्टर में स्पेशलाइजेशन के अनुसार में सब्जेक्ट्स पढ़ाई जाती है।

PGDM ke Baad kya Kare (Scope of PGDM)

पीजीडीएम कोर्स कोर्स समाप्त होने के बाद उम्मीदवारों के सामने दो रास्ते रहते है; पहला है, हायर स्टडी और दूसरा है, जॉब्स। आप अपने जरूरत के हिसाब से अपना मार्ग चुन सकते है। यदि आप हायर स्टडी करना चाहते है तो किसी एक स्पेशलाइजेशन में पीएचडी या एमफिल कर सकते है।

अन्यथा यदि आप नौकरी करना चाहे तो आपके लिए मैनेजमेंट की क्षेत्र में अपार संभावनाएं उपलब्ध है। आप चाहे तो विदेशों में भी नौकरी कर सकते है। यहां हमने कुछ रिक्रूटमेंट इंस्टीट्यूटस के नाम बताये है।

टॉप रिक्रूटमेंट इंस्टीट्यूट

• TATA

• Mahindra & Mahindra

• Asian Paints

• HDFC Group

• Hero MotoCorp 

•  Bain & Company

• Hamilton Company

• Boston Consulting Group

• Accenture

• Polycab

• Apollo Health & Lifestyle

पीजीडीएम के बाद जॉब प्रोफाइल

• ह्यूमन रिसोर्स मैनेजर

• फाइनेंस मैनेजर

• सेल्स मैनेजर

• आपरेशन मैनेजर

• प्रोडक्ट मैनेजर

• सप्लाई चैन मैनेजर

• इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी मैनेजर

• इनफार्मेशन सिक्योरिटी एनालिस्ट

• बिजनेस एंटरप्रेन्योर

• लेक्चरर

• रिसर्चर

PGDM ke Baad Salary

पीजीडीएम कोर्स के डिग्री धारकों को उनके पोस्ट, सेक्टर और एक्सपीरियंस के ऊपर निर्भर करके सैलरी पैकेज प्रदान किया जाता है। यदि पीजीडीएम वालो की औसतन सैलरी पैकेज देखा जाए तो ₹7,00,000 से ₹25,00,000 तक होती है। यह रकम एक्सपीरियंस के साथ बढ़कर ₹35,00,000 तक पहुंच जाती है।

यदि विदेशों की बात करे तो पीजीडीएम वालो को अच्छी सैलरी पैकेज प्रदान की जाती है, आमतौर पर ₹25,00,000 से ₹60,00,000 तक आसानी से मिल जाती है।

निष्कर्ष: इस लेख में हम PGDM Course Details के बारे में जानकारी प्रदान की गई है। जैसे कि PGDM kya Hai, पीजीडीएम कोर्स के पात्रता, पीजीडीएम कोर्स करने के लाभ, पीजीडीएम कोर्स की फीस, स्कोप, नौकरी, सैलरी, इत्यादि।

आशा करते है आपको पीजीडीएम कोर्स की पूरी जानकारी पसंद आई होगी। यदि पसंद आई है तो कृपया आप अपने दोस्तों के साथ फेसबुक, व्हाट्सऐप जैसे सोशल मीडिया में ज्यादा से ज्यादा शेयर करे।

और अगर कोई सवाल है तो कमेंट करके पूछिये, 12 घंटे के अंदर आपको आपके जवाब मिल जाएगा। यदि हमारे लिए कोई सुझाव है तो भी बताये ताकि हम अपने लेख को सुधार सके।

कोर्स और करियर से जुड़े जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग FutureBanaye.com को सब्सक्राइब करे और हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े ताकि कोई भी लेख का नोटिफिकेशन मिस न हो जाये।

यह पढ़े:

दोस्तों के साथ शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published.