Notifications
×
Subscribe
Unsubscribe

Nursing course information: नर्स कैसे बने,पढ़ाई,फीस,नौकरी,सैलरी

आज के तारीख में मेडिकल क्षेत्र में करियर बनाने की स्कोप तेजी से बढ़ रही है। इसे देखते हुए ज्यादातर विद्यार्थी 12 वी के बाद मेडिकल कोर्स करके इस क्षेत्र में अपना करियर बनाने की सपना देख रहे है। ऐसे में यदि आप भी कोई है जो मेडिकल फील्ड में अपना करियर संवरना चाहते तो आज की आर्टिकल आपके लिए काफी महत्वपूर्ण होने वाली है।

क्योंकि, इस आर्टिकल में Nurse kaise bane, नर्सिंग बनने के लिए कौन से कोर्स करना होता, नर्सिंग कोर्स की फीस कितनी है, कौन सा सब्जेक्ट्स पढ़ना होता, एडमिशन प्रॉसेस क्या है, स्कोप क्या है, सैलरी कितना मिलेगा, इत्यादि के बारे में बात करेंगे।

इसलिए यदि आप नर्स बनना चाहते तो पूरा आर्टिकल ध्यानपूर्वक पढ़े ताकि nursing course information से जुड़े कोई भी सवाल आपके मन मे न रहे और नर्सिंग की पढ़ाई करते वक़्त आपको किसी भी समस्याओं का सामना करना न पड़े।

Nursing course information in Hindi

मेडिकल क्षेत्र में डॉक्टर और फार्मासिस्ट के अलावा दूसरे जो सबसे डिमांडिंग कोर्स है वो है नर्सिंग का। यह एक ऐसा कोर्स है जिसमे लड़की और लड़के दोनों ही अपना करियर संवार सकते है। इसके अंतर्गत बहुत से कोर्स है जिसके बारे में स्टेप बाई स्टेप आगे बताया गया है।

Nursing course information in Hindi,Nurse kaise Bane,नर्सिंग कोर्स फीस डिटेल्स,नर्सिंग की तैयारी कैसे करें

Nurse kaise Bane

नर्स बनने के लिए इंडियन नर्सिंग काउंसिल द्वारा बहुत से कोर्स को मंजूरी दी गई है। जैसे ANM, GNM, Bsc, Post Basic Bsc Nursing, Msc इत्यादि। इन सभी प्रकार के नर्स बनने हेतु जरूरी इनफार्मेशन नीचे देख सकते है।

ANM Nurse कैसे बने: ANM का मतलब है Auxiliary nurse midwife. यह 2 साल की एक डिप्लोमा कोर्स है जिसमे दाखिल लेने के लिए न्यूनतम 12वी पास करना होता किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से या उसके समकक्ष कोई योग्यता होने की आवश्यकता है।

इस कोर्स में दाखिला लेने के लिए अभ्यर्थियों को कम से कम 17 साल और अधिकतम 35 साल की होनी चाहिए। यह कोर्स खासकर लड़कियों के लिए बनाई गई है जिसमे कोई लड़के हिस्से नहीं ले सकते।

दो साल की एएनएम कोर्स पूरा होने के पश्चात अभ्यर्थियों को सरकारी तथा निजी अस्पताल, प्राइमरी हेल्थ सेंटर में नौकरी मिल जाता है। इस कोर्स के एडमिशन प्रॉसेस, सिलेबस, फीस आदि के बारे में यहां क्लिक करके डिटेल्स में जान सकते है: ANM Course Details.

GNM Nurse कैसे बने: जीएनएम का पूरा नाम है जनरल नर्सिंग एंड मिडवाइफरी यह भी एक डिप्लोमा कोर्स है जिसमे एडमिशन लेने वाले अभ्यर्थी लड़के या लड़की, कोई भी हो सकती है।

यह साढ़े तीन साल की कोर्स है जिसमे तीन साल की पढ़ाई और बाकी आधा साल की इंटर्नशीप करना होता। इंटर्नशिप के दौरान अभ्यर्थियों को सैलरी भी प्रदान की जाती है।

कोर्स में प्रवेश लेने हेतु न्यूनतम 12वी पास करना होता किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से या उसके समतुल्य कोई डिग्री करना होता और उंसमे कम से कम 45 प्रतिशत नंबर की होना आवश्यक है वही आरक्षण वर्ग के लिए न्यूनतम 40 प्रतिशत नंबर की होना अनिवार्य है।

ध्यान रहे, इंसमे दाखिला लेने हेतु किसी भी प्रकार के सब्जेक्ट की कोई अनिवार्यता नहीं है। जो भी स्टूडेंट्स 12वी पास किये है साइंस, आर्ट्स या कॉमर्स से वो इस कोर्स के लिए योग्य है और बिना कोई समस्या के कोर्स में दाखिला ले सकते है।

कोर्स में मुख्यतः तीन तरीकों से एडमिशन लिया जाता है, 12वी में प्राप्त नंबर के आधार पर, एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर, और डायरेक्ट एडमिशन।

ज्यादातर सरकारी कॉलेज में 12वी में प्राप्त नंबर के आधार पर ही मेरिट लिस्ट तैयार किया जाता है और उसके आधार पर एडमिशन की प्रॉसेस सुरु किया जाता। यहां क्लिक करके इस कोर्स के बारे में डिटेल्स में जान सकते है, GNM Nursing Course Details

B.sc Nurse कैसे बने: बीएससी नर्सिंग एक ग्रेजुएशन लेवल की नर्सिंग डिग्री है जिसका समयावधि है चार साल। इन चार सालों में कुलमिलाकर अभ्यर्थियों को आठ सेमेस्टर देना होता। हर सेमेस्टर प्रत्येक छह माह के अंतराल में आयोजित किया जाता।

इस कोर्स में दाखिला लेने हेतु उम्मीदवारों को 12वी में साइंस शाखा से पढ़ाई करने होगा जिसमें फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी होना अनिवार्य है।

इन सभी विषयों में न्यूनतम 45 प्रतिशत नंबर की मांग मि जाती है जनरल वर्ग के छात्रों के लिए वही अनुसूचित जनजातियों के लिए कम से कम 40 प्रतिशत नंबर होना चाहिए तभी इंसमे इस कोर्स में दाखिला लेने के लिए मंजूरी मिलेगी।

बीएससी नर्सिंग की पढ़ाई के लिए इंडियन नर्सिंग काउंसिल द्वारा आयु निर्धारित की गई है जो कम से कम 17 साल की होनी चाहिए। अगर कोई इससे कम उम्र के है तो उन्हें 17 साल तक इन्तेजार करना पड़ेगा उसके बाद कोर्स में एडमिशन ले सकते है।

एडमिशन मुख्यतः मेरिट के आधार पर और डायरेक्ट एडमिशन के तौर पर लिया जाता है। बीएससी नर्सिंग की फीस, सिलेबस, स्कोप, करियर, नौकरी, सैलरी इत्यादि के बारे यहां क्लिक करके पढ़े, B.sc Nursing Course Details

Post Basic Bsc Nurse कैसे बने: पोस्ट बेसिक 2 साल की एक ग्रेजुएशन नर्सिंग कोर्स है। यह कोर्स उन उम्मीदवारों के लिए है जो 12वी के बाद जीएनएम नर्सिंग की पढ़ाई की है और आगे की पढ़ाई जारी रखना चाहते है।

ऐसे में जीएनएम करने वाले स्टूडेंट्स को पोस्ट बेसिक बीएससी नृसिंग की पढ़ाई करनी चाहिए यह एक बैचलर डिग्री है जिसकी डिमांड हमारे देश के साथ दुनिया के किसी भी देश मे है।

जीएनएम कोर्स के अलावा इस कोर्स में दाखिला लेने के लिए कोई खास क्वालिफिकेशन होने की आवश्यकता नहीं। किसी भी अभ्यर्थी अपनी जीएनएम नर्सिंग की पढ़ाई पूरा करने के 1 साल बाद इस कोर्स में एडमिशन ले सकते है।

इंसमे मुख्यतः डायरेक्ट एडमिशन मिलते है। इसके समयावधि है दो साल, इन दो साल में कुल चार सेमेस्टर लिया जाता है जो हर छह माह के बाद आयोजित किया जाता। दो साल की कोर्स पूरा होने के बाद अभ्यर्थियों को हेल्थ सेक्टर में सीनियर नर्स के रूप में नौकरी मिल जाता है।

Msc Nursing करके नर्स कैसे बने: एमएससी नर्सिंग एक पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स है जिसे ग्रेजुएशन करने वाले नर्सिंग अभ्यर्थी कर सकते है। इसके समयावधि है 2 साल जसमे चार सेमेस्टर देने होते।

इंसमे दाखिला लेने के लिए किसी प्रकार की कोई एंट्रेंस एग्जाम देने की आवश्यकता नहीं, ज्यादातर कॉलेज में डायरेक्ट एडमिशन लिया जाता है। ऐसे में अभ्यर्थी सीधा कॉलेज से संपर्क करके एडमिशन फीस जमा करने के बाद कोर्स में दाखिला ले सकते है।

हमे विश्वास है आपको समझ आ गया होगा कि Nurse kaise bane या Nursing course information के बारे में। अब आइये जानते है कि नर्सिंग कोर्स के लिए कितना फीस लगते है उसके बारे में।

बेस्ट नर्सिंग कॉलेज

नर्सिंग करने के लिए इंडिया में बहुत से कॉलेज है जहां से आप एएनएम, जीएनएम, या फिर बीएससी नर्सिंग की कोर्स कर सकते है। लेकिन किसी भी कॉलेज में दाखिला लेने से पहले उस कॉलेज के बारे में पूरा जानकारी लेना चाहिए।

  • ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस, नई दिल्ली
  • मद्रास मेडिकल कॉलेज, चेन्नई, तमिलनाडु
  • किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी, लखनऊ, उत्तर प्रदेश
  • पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च, चंडीगढ़
  • लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज, नई दिल्ली
  • राजस्थान यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंस, जयपुर, राजस्थान
  • किंग एडवर्ड मेमोरियल अस्पताल और सेठ गोर्धनदास सुन्दरदास मेडिकल कॉलेज, मुंबई, महाराष्ट्र
  • बीएमसीआरआई – बैंगलोर मेडिकल कॉलेज और अनुसंधान संस्थान, बेंगलुरु, कर्नाटक
  • राजीव गांधी स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय, बेंगलुरु, कर्नाटक

नर्सिंग कोर्स फीस डिटेल्स

नर्सिंग कोर्स की फीस बहुत से चीजों के ऊपर निर्भर करती है जैसे, अभ्यर्थी कौन सा नर्सिंग कोर्स करेंगे उसके ऊपर, इसके अलावा भिन्न-भिन्न कॉलेज में भिन्न प्रकार के फीस लिया जाता, यह हर राज्य के हिसाब से भी अलग होता है।

यदि आमतौर पर ANM Nursing कोर्स की फीस बताया जाए तो औसतन ₹5000 से ₹50,000 तक फीस लग जाते है। यह अमाउंट सरकारी और प्राइवेट दोनों में अलग अलग हो सकता है।

GNM Nursing कोर्स फीस की बात की जाए तो पूरे कोर्स के लिए ₹30,000 से ₹4,00,000 तक फीस लग जाता है। किसी भी सरकारी कॉलेज में औसतन ₹30,000 से ₹35,000 तक फीस लग जाता है वही प्राइवेट कॉलेज में यह आंकड़े लगभग 4 लाख के आस पास पहुंच जाता।

Bsc Nursing कोर्स की फीस देखा जाए तो, सालाना औसतन ₹10,000 से ₹1,60,000 तक होता है। यह राशि कॉलेज तथा राज्य के हिसाब से भिन्न होगा।

दूसरे मेडिकल कोर्स:

DOT Course Details

CCH Course Details

MBBS Course Details

BHMS Course Details

Radiology Course Details

Paramedical kya hai

D pharma Course Details

DMLT Course Details

B pharma Course Details

BDS Course Details

Bsc agriculture Course kya Hai

मेडिकल लैब तकनीशियन कैसे बने

होटल मैनेजमेंट कोर्स इनफार्मेशन

नर्सिंग की तैयारी कैसे करें

अगर कोई नर्स बनना चाहते है तो उन्हें पहले से नर्सिंग की तैयारी करना चाहिए क्योंकि नर्सिंग की कोर्स में एडमिशन लेने के लिए बहुत से कॉलेज में एंट्रेंस एग्जाम लिया जाता है और मेरिट आधार पर भी दाखिला लिया जाता है। ऐसे में 12वी में प्राप्त नंबर को महत्व दिया जाता है।

अगर कोई प्राइवेट कॉलेज में नर्सिंग की कोर्स करना चाहे तो उन्हें कुछ खास तैयारी करने की आवश्यकता नहीं। परंतु ज्यादातर सरकारी कॉलेज में मेरिट के आधार पर एडमिशन की आगे बढ़ाया जाता है। इसलिए पहले से तैयारी करनी चाहिए।

एंट्रेंस एग्जाम में मुख्यतः फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी विषय से प्रश्न पूछे जाते है। इनमें सबसे अधिक बायोलॉजी का प्रश्न होता।

नर्सिंग की पढ़ाई के बाद क्या करे

नर्सिंग के पढ़ाई के बाद उम्मीदवारों के लिए पूरी विश्व मे कई सारे द्वार खुल जाते है। नर्स बनने के बाद मुख्यतः मेडिकल क्षेत्र में ही नौकरी मिलेगा जैसे,

  • सरकारी अस्पताल
  • प्राइवेट अस्पताल
  • प्राइवेट क्लिनिक
  • नॉन-प्रॉफिट ऑर्गनाइजेशन
  • पब्लिक सेक्टर कंपनी
  • रेलवे अस्पताल
  • प्राइवेट नर्सिंग सेवा

नर्स की सैलरी कितनी है

नर्स की सैलरी की बात की जाए तो यह बहुत से चीजों के ऊपर निर्भर करती है जैसे, नर्सिंग कोर्स, नौकरी के क्षेत्र यानी सरकारी या प्राइवेट, नौकरी के पद, काम के एक्सपीरियंस, इत्यादि।

यदि सरकारी नर्स की सैलरी की बात करे तो सुरुवात में औसतन ₹25,000 से ₹35,000 हर माह मिल जाते है। वही प्राइवेट नर्स की सैलरी देखा जाए सुरुवात में थोड़ा कम होता है लगभग, ₹18,000 से 20,000 के आस पास।

जैसे जैसे समय के साथ साथ काम के एक्सपीरियंस बढ़ते है सैलरी भी बढ़ना सुरु हो जाते है। ध्यान रहे प्राइवेट नर्स के तुलना में सरकारी नर्स की सैलरी ज्यादा होती है।

नर्स बनने के लिए कौन सा कोर्स करना पड़ेगा?

नर्स बनने के लिए कई सारे कोर्स है जैसे एएनएम, जीएनएम, बीएससी नर्सिंग, पोस्ट बेसिक बीएससी नर्सिंग, इत्यादि। इन सभी नर्सिंग कोर्स के बारे में हमने आर्टिकल में बारीकियों से चर्चा की है।

फिरभी बताते चले, यदि आप दो साल की नर्सिंग कोर्स करना चाहते है तो आपको ANM नर्सिंग की पढ़ाई करनी होगी। जीएनएम नर्स बनने के लिए साढ़े तीन साल की GNM नर्सिंग और बैचलर ऑफ नर्सिंग यानी Bsc नर्सिंग की पढ़ाई के लिए Bsc नर्सिंग करना होगा।
इन सभी विषयों के बारे में बारीकियों से जानने के लिए कृपया पूरी आर्टिकल पढ़े जहां हमने nursing course information in hindi में प्रदान की है।

नर्सिंग करने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

नर्सिंग के अलग अलग कोर्स के लिए अलग अलग योग्यता चाहिए जैसे एएनएम और जीएनएम नर्सिंग के लिए न्यूनतम 12वी करना होता किसी भी विभाग से वही बीएससी नर्सिंग के लिए 12वी में फिजिक्स, केमिस्ट्री तथा बायोलॉजी होनी चाहिए।

नर्सिंग कोर्स कितने साल का है?

जैसे की आपको पहले ही बताया नर्सिंग के अलग अलग कोर्स होते है और उन सभी कोर्स के समयावधि भी अलग है। जीएनएम नर्सिंग के समयावधि है 2 साल, जीएनएम नर्सिंग के 3.5 साल, बीएससी नर्सिंग के 4 साल वही पोस्ट बेसिक बीएससी नर्सिंग के लिए 2 साल।

निष्कर्ष: इस पोस्ट में हमने Nursing course information in Hindi के बारे में बात की है। जैसे कि, nurse kaise bane, इंसमे कौन कौन से कोर्स है, कोर्स की फीस कितनी है, नर्सिंग की तैयारी कैसे करेंगे, सैलरी कितना मिलेगा, इत्यादि।

हमे आशा है आपको यह जानकारी पसंद आई होगी, आपको कैसा लगा कमेंट करके बात सकते है और अपने दोस्तों के साथ हमारे ब्लॉग FutureBanaye.com को शेयर करे।

यह पढ़े:

Physiotherapy Course Details in Hindi

BOT Course Details

CS Course Details in hindi

IPS kaise Bane

Police Constable kaise Bane

Biotechnology Course in Hindi

Bsc Kya hai, subject list, fees, admission, scope, salary

PGDMLT Course Details

दोस्तों के साथ शेयर करे

4 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.