Notifications
×
Subscribe
Unsubscribe

NEET Kya Hai एबं NEET की तैयारी कैसे करे?

कहते है ना कुछ भी चीज़ करने से पहले उसके बारे में सही से जानकारी हासिल कर लेना चाहिए। बिना जानकारी के आप उस मुकाम तक पहुंच ही नहीं सकते।

एजुकेशन के क्षेत्र में भी ये बात सही से बैठती है। इसलिए आप भविष्य में जो भी बनना चाहते है उसके बारे अभी से जानकारी लेना सुरु कर दे।

खैर, आज की टॉपिक पर आते है, आज हम जनेंगे की डॉक्टर बनने के लिए जो NEET एग्जाम दिये जाते है उस नीट एग्जाम के सम्पूर्ण प्रक्रिया के बारे में।

NEET kya hai, NEET का पूरा नाम क्या है, NEET की तैयारी कैसे करे, इसके सिलेबस क्या है, फॉर्म फिलअप कैसे करे, एग्जाम कब होते है, NEET Means in Hindi इत्यादि

> D pharma Course की पूरी जानकारी

इसके अलावा  2021 के NEET एग्जाम किस माह में होगा, NEET ke paper kaisa hota hai, 2021 में NEET Syllabus कैसा होगा, इत्यादि NEET ke bare me jankari बारीकी से देंगे।

NEET kya hai, NEET means in hindi, neet ke baad kya kare
NEET kya hai

यदि आप सच मे डॉक्टर बनना चाहते है तो इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक आखिरी तक पढ़े तभी आपको नीट के बारे में सही से समझ आएगा। (यह पढ़े: Doctor kaise Bane)

NEET kya hai (what is NEET in hindi)

NEET का पूरा नाम है National Eligibility cum Entrance Test इसे NTA (National Testing Agency) द्वारा आयोजित की जाती है।

इस एग्जाम को पहले AIPMT (All India Pre Medical Test) के नाम से जाने जाते थे परंतु 2013 के बाद इसे NEET नाम दे दिया गया।

> DMLT कोर्स करके लैब टेक्नीशियन बने

जिन स्टूडेंट्स स्वास्थ्य के क्षेत्र में रुचि रखते है और आगे जाकर डॉक्टर बनना चाहते है, ये एग्जाम खासकर उन स्टूडेंट्स के लिए बनाया गया है।

इस एग्जाम में प्राप्त नंबर के आधार पर आपके डॉक्टर बनने का सफर सुरु हो जाते है।

NEET एग्जाम दो तरह के होते है। पहला है, NEET UG और दूसरा है, NEET PG.

NEET UG एग्जाम उन स्टूडेंट्स के लिए है जो की MBBS, BDS एबं AYUSH (BAMS, BUMS, BHMS इत्यादि) वाले स्नातक कोर्स में एडमिशन लेना चाहते।

और NEET PG  उनके लिए है जिन्हें एम.डी एबं एम.एस करना होता है।पॉलीटेक्निक क्या है और कैसे करे

> पॉलीटेक्निक कोर्स करने इंजीनियर बने

आज की इस आर्टिकल पे हम NEET UG एग्जाम के बारे में बात करने वाले है, इसके सिलेबस क्या है, फॉर्म फिलअप कैसे करे, एग्जाम कब होती है, इसकी प्रक्रिया क्या है, इत्यादि।

NEET एग्जाम के लिए योग्यता यानी NEET एग्जाम कौन दे सकते है

आशा करता हूं, NEET kya hai आपको समझ मे आया होगा। अब आइए नीट एग्जाम के लिए क्या योग्यता चाहिए उसके बारे में जान लेते है।

NTA द्वारा NEET के लिए न्यूनतम जो क्वालिफिकेशन निर्धारित की गई है वे है फिजिक्स, केमिस्ट्री, तथा बायोलॉजी सब्जेक्ट्स लेकर किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12 वी पास।

12 वी (इंटरमीडिएट) में इन सब्जेक्ट्स में कम से कम 50 प्रतिशत नंबर चाहिए। और SC तथा ST वर्ग के लिए के लिए 45 प्रतिशत।

> B pharma Course करके फार्मासिस्ट बने

इस एग्जाम में मैथेमेटिक्स की कोई महत्व नहीं है। 12 वी में आपके मैथेमेटिक्स है कि नहीं इससे कुछ फर्क नहीं पड़ेगा।

आयु की बात करे तो, पहले इस एग्जाम के लिए 17 से 25 साल निर्धारित थे परंतु अभी के समय न्यूनतम आयु 17 तो है मगर अधिकतम आयु निर्धारित नहीं।

इसलिए, यदि आपके आयु 25, 30 से अधिक हो चुके है परंतु कभी भी आपके डॉक्टर बनने का सपना रहा होगा तो अभी भी कोशिश करके देख सकते है।

NEET ki Fees

नीट एग्जाम के फीस के बारे बात करे तो जनरल वर्ग के स्टूडेंट्स के लिए 1000 रुपए और SC, ST, OBC, EWS तथा PH वर्ग के छात्रों के लिए 500 रुपए निर्धारित है।

> B tech कोर्स करके इंजीनियर बने

ये फीस आपको फॉर्म भरते वक़्त देना पड़ता है जो कि रिफंडेबल नहीं है।

NEET ka paper (NEET ka Syllabus)

यदि आप नहीं जानते कि neet ka paper kaisa hota hai तो आपको बता दूं, इस एग्जाम में तीन सब्जेक्ट्स के ऊपर सवाल आते है (फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी).

फिजिक्स में 45, केमिस्ट्री में 45 तथा बियोलॉजी में 90 कुलमिलाकर एग्जाम में 180 सवाल आते है। हर एक सवाल के लिए 4 (चार) नंबर निर्धारित है यानी टोटल 720 नंबर की एग्जाम देना है।

सारे सवाल ऑब्जेक्टिव टाइप के आते है। मतलब एक सवाल के जवाब में 4 ऑप्शन दिया जाता है उसमें से आपको सही जवाब चुनना पड़ता है।

> GNM नर्स कैसे बने, सैलरी कितनी है पूरी जानकारी

अगर जवाब सही हो जाते है तो, एक सवाल के 4 अंक मिल जाएगा और अगर जवाब गलत हो जाते है तो, एक गलत जवाब के लिए एक नंबर कट लिया जाएगा।

NEET एग्जाम कब होते है

नीट एग्जाम हर साल मई महीने के पहली सप्ताह में होते है। परंतु इस साल 2021 में अभी तक नीट एग्जाम के डेट घोषित नहीं हुए है।

जब भी इस एग्जाम से जुड़े कोई अपडेट आएगा आपको इस साइट पर देखने को मिल जाएगा।

NEET ki taiyari

यदि आप नहीं जानते कि नीट एग्जाम के तैयारी कैसे करेंगे तो निम्नलिखित स्टेप्स फॉलो कर सकते है।

यह पढ़े: Software Engineer Kaise Bane

टाईमटेबल बनाए: सबसे पहले आपको अपने हिसाब से पढ़ने के लिए एक सही टाईमटेबल बना लेना है। अब हर सब्जेक्ट्स के लिए निर्दिष्ट समय तय कर दीजिए। उस तय किये हुए समय के अनुसार पढ़ते रहे।

आपको एक बात ध्यान रखना है कि एक साथ 11 वी 12 वी के सिलेबस कम्पलीट करना है। इसलिए लांग टाइम पढ़ना है।

कठिन सब्जेक्ट्स के ऊपर ध्यान दे: नीट एग्जाम में तीन सब्जेक्ट्स से सवाल आते है, फिजिक्स, केमिस्ट्री, तथा बायोलॉजी।

इन सब्जेक्ट्स को बारीकी से पढ़ना है। जो भी सब्जेक्ट्स आपको कठिन लगे उसके ऊपर अधिक ध्यान देना चाहिए।

स्टडी मैटेरियल्स: एग्जाम क्रैक करने के लिए आपके पास सही स्टडी मैटेरियल्स होना चाहिए। इसके लिए, अच्छे ज्ञान सम्पन्न किसी शिक्षक के साथ संपर्क करना अच्छा रहेगा।

> ANM Nursing Course Details in Hindi

इसके अलावा, जिन कोचिंग में नीट एग्जाम के लिए तैयार की जाती है वहा जॉइन हो सकते हो एबं पहले जिन लोग नीट के एग्जाम दिए है या एग्जाम में पास हुए है उनके साथ संपर्क करना अच्छा रहेगा।

रेविजन करते रहना: रेविजन के एक शेड्यूल बनाना होगा। पूरे सप्ताह में आप जो भी पढ़ेंगे उसे सप्ताह के एकबार जरूर रिवीजन करना है।

इससे इयाद रखने में आसानी होगी। इसलिए समय समय पर रिवीजन अवश्य करे।

नोट्स बनाए: आप पहले दिन से ही नोट्स बनाना सुरु कर दे। पढ़ाई के दौरान आपको जो भी पॉइंट्स महत्वपूर्ण लगे उसे नोट करके रख लीजिए।

> CMLT कोर्स करके लैब टेक्नीशियन बने

हर एक सब्जेक्ट्स के लिए अलग अलग नोटबुक होनी चाहिए और इसे समय समय पर रिवीजन करते रहे।

मॉक टेस्ट प्रैक्टिस करते रहे: आपके निपुणता यानी तैयारी को पहचानने के लिए मॉक टेस्ट देना अनिवार्य है। इससे आपके अंदर जो भी कमियां है उसके बारे में पता चलेगा।

और नीट एग्जाम क्रैक करने का सबसे महत्वपूर्ण पार्ट है समय का प्रबंधन (Time management). क्योंकि, एग्जाम में 180 सवाल का जवाब आपको 180 मिनट में देना है।

मतलब, 1 सवाल के लिए लगभग 1 मिनट, ये इतनी आसान नही है जितनी हम सोचते। इस समस्या को दूर करने के लिए मॉक टेस्ट देना जरूरी है।

> BMRIT Course करके रेडियोलॉजिस्ट बने

लंबे अध्ययन के दौरान विराम ले: जब आप लंबे समय से अध्ययन कर रहे है उसके दौरान पांच मिनट करके पढ़ाई में ब्रेक देना चाहिए।

पर्याप्त नींद: पर्याप्त नींद के मतलब आप 8 से 10 घंटे नींद लेंगे ऐसा नहीं। आप हर दिन 5 से 6 घंटे नींद लेने की कोशिश करें इससे आपके स्वास्थ्य में कोई समस्या नहीं आएगा।

हेल्थी खाना: परीक्षा के तैयारी करने के लिए आपके शरीर का स्वस्थ रहना जरूरी है। क्योंकि शरीर ही आपको हर्ड वर्क करने का ताकत देगा।

इसलिए हमेसा आयरन युक्त खाना खाए, खाने के साथ मछली, मांस और विटामिन सी एबं विटामिन बी युक्त खाना अधिक अधिक लेने की कोशिश करे।

NEET एग्जाम से जुड़े सवाल जवाब

NEET ka full form

यदि आप नहीं जानते कि नीट का फुल फॉर्म है तो आपको बता दूं NEET का full form है National Eligibility cum Entrance Test
neet ka full form in hindi में है राष्ट्रीय पात्रता व प्रवेश परीक्षा।

नीट एग्जाम के नियम क्या है?

हर एग्जाम की तरह नीट एग्जाम के लिए भी कुछ नियम निर्धारित है। जैसे, कुलमिलाकर तीन सब्जेक्ट्स से सवाल आएगा (फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी)

टोटल 180 सवाल होगा, हर सवाल के लिए 4 नंबर है यानी टोटल 720 नंबर का एग्जाम है। जिसमे फिजिक्स से 45 नंबर, केमिस्ट्री से 45 नंबर एबं बायोलॉजी से 90 नंबर आएगा।

प्रत्येक सही जवाब के लिए 4 नंबर मिलेगा और अगर कोई जवाब गलत हो जाये तो उसके लिए 1 नंबर कट जाएगा।

इसे पढ़े: Diploma in Mass Communication Course Details

ये सारे सवाल ऑब्जेक्टिव टाइप के है जिसके जवाब के तौर पर चार ऑप्शन दिया रहता है उसमें से आपको सही ऑप्शन को ढूंढना पड़ता है।

नीट का पेपर कितने नंबर का होता है?

नीट का पेपर कुलमिलाकर 720 नंबर का होता है जिसमे 180 सवाल पूछे जाते है। हर सवाल के लिए चार नंबर तय किया हुआ है।

नीट पास होने के बाद क्या होता है?

नीट पास होने के बाद आपके प्राप्त नंबर के आधार पर रैंक निर्धारित होता है।

उसके बाद फीस जमा करके ऑनलाइन काउंसलिंग के लिए रजिस्ट्रेशन करना पड़ेगा।

रजिस्ट्रेशन के दौरान आपको कॉलेज सेलेस्ट कर लेना है। आप चाहे तो कॉलेज सेलेस्ट करने के बाद लॉक भी कर सकते है।

एकबार लॉक हो जाने के बाद आप चेंज नहीं कर सकते। इसलिए नहीं करेंगे तो भी चलेगा।

नीट में कैसे क्वेश्चन आते हैं?

इस एग्जाम में ऑब्जेक्टिव टाइप सवाल आते है। हर सवाल के उत्तर के रूप में चार ऑप्शन दिया जाता है। उनमें से सही वाले ऑप्शन सेलेस्ट होंगे।

नीट में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए?

नीट एग्जाम में पास होने के लिए 2020 में जनरल वर्ग के लिए 50 परसेंटाइल और एस. सी, एस. टी, पी.एच एले वर्ग के लिए न्यूनतम 45 परसेंटाइल नंबर की जरूरत।

क्या आर्ट्स वाले स्टूडेंट्स भी नीट दे सकते है?

नहीं, नीट एग्जाम सिर्फ और सिर्फ साइंस वाले स्टूडेंट्स के लिए है। वो भी 12वी जिनके फिजिक्स, केमिस्ट्री, तथा बायोलॉजी (PCM) है।

क्या हिंदी मीडियम के स्टूडेंट्स नीट क्लियर करने के बाद हिंदी में एमबीबीएस कर सकते है?

नहीं जी, भले ही आप हिंदी में नीट क्लियर कर लें पर एमबीबीएस आपको इंग्लिश भाषा मे ही करना होगा।

निष्कर्ष: आज की इस ब्लॉग पोस्ट में आपको NEET kya hai, Neet ki taiyari, neet ka paper kaisa hota hai, neet means in hindi के बारे में जानकारी प्रदान की गई है।

इस आर्टिकल से आपको क्या सीखने को मिला है कमेंट सेक्शन में बताना और अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करना।

ऐसे ही शानदार जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब करे एबं सोशल मीडिया पर शेयर करें

धन्यवाद!

दोस्तों के साथ शेयर करे

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.