MSW Course Details: फीस, एडमिशन, स्कोप, नौकरियां, सैलरी

जो भी अभ्यर्थी समाज कल्याण कार्य करना पसंद करते है और आगे की जिंदगी इसी क्षेत्र में बनाना चाहते है उनके लिए MSW Course समाज कल्याण कार्य के साथ अच्छी कमाई का अवसर प्रदान कर रहे है।

अगर आप MSW Course Details के बारे में अच्छे से जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो इस लेख को ध्यानपूर्वक पढ़े; यहां आपको पता चल जाएगा कि Msw कोर्स क्या है, MSW के लिए योग्यता, MSW एडमिशन प्रॉसेस, MSW कोर्स फीस, MSW के बाद नौकरियां, MSW के सैलरी, इत्यादि।

MSW Course Details in Hindi

जब तक दुनिया मे इंसानियत जिंदा रहेगा, जब तक लोगों के में समाज कल्याण भाव रहेगा तब तक लोगों का दिल एक दूसरे के लिए धड़कता रहेगा और MSW जैसे कोर्स का मांग भी बढ़ता रहेगा।

MSW Course Details in hindi,Msw कोर्स क्या है,MSW course fees,MSW के लिए योग्यता,एमएसडब्ल्यू नौकरियों

Msw कोर्स क्या है

MSW का पूरा नाम है Master of Social Work यानी समाज कल्याण में स्नातकोत्तर, जो दो साल की कोर्स है जिसे करने हेतु उम्मीदवारों को तीन साल की ग्रेजुएशन करना होता किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज से।

MSW की दो साल में कुल चार सेमेस्टर देना होता जो हर छह माह के अंतराल में यूनिवर्सिटी द्वारा आयोजित किया जाता है, इन सेमेस्टर में उत्तीर्ण होने के पश्चात ही उम्मीदवारों को मास्टर ऑफ सोशल वर्क का डिग्री हासिल होते।

अभ्यर्थी दो साल की एमएसडब्ल्यू, फुल टाइम या पार्ट टाइम/डिस्टेंस एजुकेशन कोर्स के माध्यम से कर सकते है। कोर्स पूरा करने के बाद उम्मीदवारों के लिए सरकारी, प्राइवेट और नॉन प्रॉफिट ऑर्गनाइजेशन जैसे जगह नौकरी का अवसर मिलता है।

दो साल की एमएसडब्ल्यू कोर्स में अभ्यर्थियों को समाज कल्याण काम-कार्य, लीडरशिप, एडमिनिस्ट्रेशन प्रॉसेस, इकोनॉमिक्स, ह्यूमन बिहेवियर, सोशल जस्टिस, वोमेन एंड चाइल्ड डिवेलपमेंट, क्रिमिनोलॉजी, ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट, मेडिकल एंड साइकियाट्रिक सोशल वर्क जैसे विषयों के बारे बारीकियों से शिक्षा प्रदान की जाती है।

MSW ka Full Form

एमएसडब्ल्यू का फुल फॉर्म है मास्टर ऑफ सोशल वर्क यानी समाज कल्याण में स्नातकोत्तर। इंसमे दो साल होते है और इन दो सालों में उम्मीदवारों को समाज सेवा और लोगों के हित के लिए करने वाले कार्य को सिखाया जाता है।

MSW के लिए योग्यता

दूसरे कोर्स की तरह एमएसडब्ल्यू कोर्स में दाखिला लेने हेतु यूजीसी द्वारा कुछ मानदंड तय किया गया है जिसके बारे में आगे बताया गया है।

• उम्मीदवारों को किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज से ग्रेजुएशन पास करना होगा किसी भी विषय लेकर। अगर कोई बीएससी/बीकॉम/बीए में से कोई भी स्ट्रीम लेकर ग्रेजुएशन पूरा करते है तो वह एमएसडब्ल्यू कोर्स के लिए योग्य माना जाता है।

• जनरल वर्ग के अभ्यर्थियों को ग्रेजुएशन में कम से 45 प्रतिशत नंबर प्राप्त करनी चाहिए, वही अनुसूचित जाति और जनजातियों के लिए न्यूनतम 40 प्रतिशत, लेकिन कॉलेज के हिसाब से नंबर थोड़ा कम-ज्यादा हो सकता है।

• उम्मीदवारों को MSW Course में दाखिला लेने के लिए आयु की कोई लिमिट नहीं होती। दाखिला लेने के लिए बस ग्रेजुएशन पूरा करना होता, उसके बाद ही कोर्स में दाखिला मिलते।

Master of Social Work (MSW) Admission Process

MSW Course फुल टाइम और पार्ट टाइम यानी डिस्टेंस एजुकेशन माध्यम से कर सकते है। इंसमे मुख्यतः तीन तरीके से एडमिशन होता है।

मेरिट के आधार लर एमएसडब्ल्यू कोर्स में एडमिशन: कुछ कॉलेज/यूनिवर्सिटीज में मेरिट के आधार पर एडमिशन मिलते है। ऐसे कॉलेजों में एडमिशन लेने हेतु पहले कॉलेज के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।

वहां रजिस्ट्रेशन करके एप्लीकेशन फॉर्म भरना होगा और जरूरी दस्तावेजों का ज़ेरॉक्स कॉपी सबमिट करना होगा, उसके बाद एप्लीकेशन फीस जमा करके एप्लीकेशन प्रक्रिया पूरा करना होगा।

उसके बाद समय समय पर उस वेबसाइट को विजिट करते रहना है मेरिट लिस्ट चेक करने हेतु। मेरिट लिस्ट में नाम निकालने के पश्चात एडमिशन फीस जमा करके एडमिशन पूरा होगा।

एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर एमएसडब्ल्यू कोर्स में एडमिशन: कुछ कॉलेज/यूनिवर्सिटीज कोर्स में दाखिला करवाने हेतु एंट्रेंस एग्जाम आयोजित करते है। उस एग्जाम में बैठने के लिए कॉलेज के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।

वहां रजिस्ट्रेशन करके आवेदन करना है, आवेदन करते समय उम्मीदवारों को दस्तावेजों की स्कैन कॉपी अपलोड करना होगा उसके बाद आवेदन शुल्क जमा करके आवेदन प्रक्रिया पूरा करना है और आवेदन पत्र के प्रिंट कॉपी निकाल लेना है।

कुछ दिन बाद एंट्रेंस एग्जाम के लिए एडमिट कार्ड जारी किया जाएगा इसकी अपडेट उसी वेबसाइट पर मिल जाएगा जहां आवेदन किये थे। एडमिट कार्ड डाऊनलोड करने के बाद एंट्रेंस एग्जाम में हिस्सा लेना है।

उस एग्जाम में प्राप्त नंबर के आधार पर मेरिट लिस्ट तैयार किया जाएगा और उसी के आधार पर आगे की एडमिशन होगा, उसी दौरान ही एडमिशन फीस जमा करके एडमिशन पूरा कर लेना है।

डायरेक्ट एडमिशन के माध्यम से एमएसडब्ल्यू कोर्स में एडमिशन: कुछ कॉलेज/यूनिवर्सिटीज में डायरेक्ट एडमिशन लिया जाता है, ऐसे में कोई एग्जाम देने की आवश्यकता नहीं होती।

उम्मीदवारों को दस्तावेज और एडमिशन फीस लेकर कॉलेज के साथ संपर्क करना होता, वहां फॉर्म भरकर एडमिशन फीस जमा करके कोर्स में दाखिला लेना होता।

यह पढ़े:

BA कोर्स की पूरी जानकारीBA Bed Course Details
BA Subjects listBBA Course Details
BJMC Course DetailsBCA Course Details

MSW ke Liye Entrance Exam

कुछ कॉलेज एमएसडब्ल्यू कोर्स में एडमिशन लेने हेतु एंट्रेंस एग्जाम करवाते है; जिसमे से कुछ एंट्रेस एग्जाम का नाम नीचे बताये है।

BHU PET: विभिन्न पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स में दाखिला लेने हेतु बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी द्वारा BHU PET एग्जाम आयोजित किया जाता है। जो भी स्टूडेंट्स ग्रेजुएशन के अंतिम वर्ष में पढ़ाई कर रहे है वे भी इस एग्जाम के हिस्सा ले सकते है, इस एग्जाम में कुल 160 मिनट्स मिलते है।

TISS NET: टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ सोशल साइंस द्वारा TISS NET एग्जाम आयोजित किया जाता है। इंसमे कुल 100 ऑब्जेक्टिव टाइप सवाल पूछे जाते है, एग्जाम के लिए 1 घंटे 40 मिनट्स का समय मिलता।

DUET: दिल्ली यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट एक राष्ट्रीय स्तरीय एग्जाम है जिसे नेशनल टेस्टिंग एजेंसी द्वारा आयोजित किया जाता है। अगर कोई दिल्ली यूनिवर्सिटी के कोई भी कॉलेज से यह कोर्स करना चाहते है तो उन्हें यह एग्जाम देना होगा।

AMU: अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी द्वारा यह एग्जाम आयोजित किया जाता, इंसमे ऑब्जेक्टिव टाइप सवाल पूछे जाते है।

Christ University Entrance Exam: क्राइस्ट यूनिवर्सिटी एंट्रेंस एग्जाम देना होता है क्राइस्ट यूनिवर्सिटी के कॉलेज में दाखिला लेने के लिए।

MSW Kaise Kare

पोस्ट ग्रेजुएशन में एमएसडब्ल्यू कोर्स की पढ़ाई करने हेतु निम्नलिखित स्टेप्स को फॉलो करना होगा;

ग्रेजुएशन कंपलीट करे: किसी विषय लेकर ग्रेजुएशन करने वाले कोई भी स्टूडेंट्स आगे जाकर पोस्ट ग्रेजुएशन में एमएसडब्ल्यू ले सकते है, लेकिन अगर आप पहले से तय कर लिए है कि आपको MSE ही करना है तो ग्रेजुएशन में BSW course करना ही बेहतर रहेगा।

न्यूनतम नंबर से पास करे: कम से 45 प्रतिशत नंबर से ग्रेजुएशन पास करनी चाहिए। ग्रेजुएशन की पढ़ाई फुल टाइम या डिस्टेंस किसी भी माध्यम से कर सकते है, सभी सर्टिफिकेट वैध होगा इसके लिए।

एमएसडब्ल्यू के लिए फॉर्म भरे: आप जिस कॉलेज में दाखिला लेना चाहते है उसके ऑफिशियल वेबसाइट पर जाइये वहां ऑनलाइन आवेदन करे और सारे दस्तावेजों की स्कैन कॉपी अपलोड करें एडमिशन के लिए।

कोर्स में एडमिशन लीजिए: यदि कॉलेज में एंट्रेंस एग्जाम होता है तो उसके माध्यम से एडमिशन लीजिए और नहीं तो डायरेक्ट एडमिशन भी ले सकते है।

MSW Course Details in hindi,Msw कोर्स क्या है,MSW course fees,MSW के लिए योग्यता,एमएसडब्ल्यू नौकरियों

ध्यान रहे; अगर किसी का आयु अधिक हो गया है तो वह ओपन यूनिवर्सिटी से एमएसडब्ल्यू की कोर्स कर सकते है, ऐसे में उन्हें एडमिशन के लिए कोई देना नहीं होगा। IGNOU जैसे ओपन यूनिवर्सिटी में सालाना दो बाद एडमिशन लिया जाता है; दिसंबर और जून में।

MSW Course Fees

एमएसडब्ल्यू कोर्स की फीस कॉलेज के हिसाब से भिन्न होता है। इसके अलावा कोर्स की मूड (फुल टाइम/डिस्टेंस) पर निर्भर करके कोर्स फीस निर्धारित किया जाता है।

किसी भी सरकारी कॉलेज/यूनिवर्सिटीज में कोर्स फीस बहुत कम होता है परंतु प्राइवेट कॉलेज में ज्यादा फीस देना होता। आमतौर पर औसतन कोर्स फीस ₹10,000 से ₹2,00,000 तक होती है, वही अगर कोई ओपन यूनिवर्सिटी से करते है तो उनके लिए ₹12,000 से ₹36,000 तक कोर्स फीस देना होगा।

यह पढ़े:

बैचलर ऑफ होटल मैनेजमेंट कोर्स (BHM Course)

D ed course Details in Hindi

Best MSW Colleges in India

इंडिया में बहुत से सरकारी, निजी और ओपन यूनिवर्सिटीज है जहां Master of Social Work का कोर्स करने का अवसर मिलते है, कुछ कॉलेज का नाम हमने नीचे बताये है।

• Vidyasagar University, Medinipur, West Bengal
• Indira Gandhi National Open University
• Netaji Subhas Open Univesity
Bhawanipur, Kolkata
• Mahatma Gandhi University, Kottayam, Kerala
• Vardhman Mahaveer Open University, Kota, Rajasthan
• Devi Ahilya Vishwavidyalaya, Indore, Madhya Pradesh
• Central University Of Karnataka, Gulbarga, Karnataka
• Mahatma Gandhi Kashi Vidyapith University, Varanasi, Uttar Pradesh
• The Maharaja Sayajirao University of Baroda, Gujarat

MSW Scope (MSW के बाद क्या करे/एमएसडब्ल्यू नौकरियों)

जिन लोग अपना करियर समाज कल्याण कार्य में अतिवाह करना चाहते है उनके लिए एमएसडब्ल्यू एक शानदार कोर्स है, जिसके माध्यम से समाज सेवा के साथ साथ उज्जवल भविष्य भी बनाई जा सकती है।

यदि आपका सवाल है कि एमएसडब्ल्यू के बाद क्या करे तो आपको बता दे, इस कोर्स पूरा होने के पश्चात सरकारी, निजी और NGO जैसे प्रतिष्ठानों में नौकरी कर सकते है। यहां अपने कुछ जॉब्स प्रोफाइल का नाम देख सकते है।

• हेल्थकेयर सोशल वर्कर
• प्रोजेक्ट कोऑर्डिनेटर
• क्लीनिकल सोशल वर्कर
• प्रोफेसर/लेक्चरर
• काउंसलर
• कम्युनिटी हेल्थ वर्कर
• कंसलटेंट
• प्रोजेक्ट मैनेजर

अगर कोई एमएसडब्ल्यू के बाद नौकरी के बदले हायर स्टडी करना चाहते है तो उनके लिए Ph.D या M.phil सबसे अच्छा ऑप्शन रहेगा।

MSW Salary (MSW के सैलरी)

एमएसडब्ल्यू के बाद सैलरी की बात की जाए तो, पद के हिसाब से और काम के अनुभव के आधार पर उम्मीदवारों को सैलरी दिया जाता है। विभिन्न क्षेत्रों और विभागों में सैलरी भी भिन्न होती है।

आमतौर पर एमएसडब्ल्यू करने के बाद उम्मीदवारों को सुरूवाती दौर में ₹15,000 से ₹30,000 हर महीने सैलरी मिलते है, वही काम के एक्सपीरिएंस बढ़ जाने के बाद सैलरी भी बढ़ती है।

निष्कर्ष: इस आर्टिकल में MSW Course Details के बारे में बताया गया है। जैसे Msw कोर्स क्या है, MSW के लिए योग्यता, MSW के एडमिशन प्रॉसेस, MSW के फीस, MSW के स्कोप, एमएसडब्ल्यू नौकरियां, MSW के सैलरी, इत्यादि।

आशा करते है आपको MSW Course Details in Hindi से जुड़े सारे जानकारी मिल गई होगी। आपको यह आर्टिकल कैसी लगी कमेंट करके बताये और अगर कोई सवाल है तो कमेंट सेक्शन में पूछना न भूले।

और अपने दोस्तों के साथ इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे, कोर्स तथा करियर संबंधित जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे ब्लॉग FutureBanaye.com को सब्सक्राइब करें एबं हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े।

यह पढ़े:

Psychologist kaise BaneCHO kaise Bane
IPS kaise BaneCS kaise Bane
Nurse kaise BaneSinger kaise Bane
Engineer kaise BaneDoctor kaise Bane

2 thoughts on “MSW Course Details: फीस, एडमिशन, स्कोप, नौकरियां, सैलरी”

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Telegram