2023 में Loco pilot kaise Bane, योग्यता, सैलरी A to Z जानकारी

इंडिया में सबसे ज्यादा अगर कोई संस्था नियुक्तियां करते है तो वह है इंडियन रेल। आज के समय लगभग 13,08,000 से अधिक कर्मचारियां सफलतापूर्वक इंडियन रेलवे में नौकरी कर रहे है।

इंडियन रेल में कई सारे पोस्ट है जिनमे से लोको पायलट एक सुप्रसिद्ध पद है। जिसके लिए हर साल लाखों उम्मीदवार एग्जाम में हिस्सा लेते है ताकि वह लोको पायलट बन सके।

परंतु ऐसी कई सारे विद्यार्थी है जिन्हें यह पता नहीं है कि Loco pilot kaise Bane, लोको पायलट बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए, कौन सा एग्जाम देना होगा, लोको पायलट का काम क्या है, लोको पायलट का सैलरी कितनी होती है, इत्यादि तो आपको बिल्कुल चिंता करने की आवश्यकता नहीं है।

आज हम आप से लोको पायलट पोस्ट के साथ रूबरू करवाएंगे ताकि आप को पता चले कि लोको पायलट कैसे बने, आपको लोको पायलट बनना चाहिए या नहीं, और अगर बनना है तो कैसे लोको पायलट बन सकते है, इत्यादि।

तो आइए आज की सफर सुरु करते है और लोको पायलट बनने की स्टेप बाय स्टेप जानकारी आप से साझा करते है। परंतु उससे पहले जिन अभ्यर्थियों को पता नहीं कि लोको पायलट होता क्या है उनके लिए थोड़ा वर्णन कर दूं;

Loco pilot kya Hai

लोको पायलट वह पेशेवर होते है जिनके ऊपर ट्रैन को अपने मंजिल तक सही से पहुंचाने की जिम्मेदारी होती है। इसके अलावा जिन्हें ट्रैन का मार्ग, स्पीड, सिक्योरिटी, तथा लोगों का सेफ्टी के बारे में पूरी जिम्मेदारी होती है। आमतौर पर लोको पायलट को ट्रेन का ड्राइवर भी कहा जाता है।

Loco pilot kaise bane,लोको पायलट की योग्यता,लोको पायलट की सैलरी
Loco pilot kaise Bane

जिनका मुख्य काम है ट्रैन मैनेजर के निर्देशानुसार ट्रैन को गंतव्य स्थान तक सही सलामत पहुंचाना। यह एक जिम्मेदार भरी काम है। जिसमे सम्मान के साथ साथ अच्छे सैलरी भी मिलते है।

लोको पायलट की योग्यता

लोको पायलट बनने के उम्मीदवारों के पास कुछ न्यूनतम क्राइटेरिया होनी चाहिए जो हमने बिंदु अनुसार स्टेप बाय स्टेप चर्चा किये है;

  • लोको पायलट बनने वाले उम्मीदवारों को न्यूनतम 10वीं पास करना होता किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से।
  • 10वीं के पश्चात NCVT या SCVT के मान्यता प्राप्त किसी इंस्टीटूट से आईटीआई कोर्स करना होता या फिर AICTE द्वारा मान्यता दी गई कॉलेज से डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग की पढ़ाई करनी होती। रेलवे में सबसे ज्यादा जिन ट्रेड की मांग रहती वह है, इलेक्ट्रिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स, मैकेनिकल, ऑटोमोबाइल, कारपेंटर, फिटर, इत्यादि।
  • अभ्यर्थियों का आयु कम से कम 18 वर्ष की होनी चाहिए और सर्वाधिक 28 वर्ष। आरक्षण श्रेणियों के लिए नियमानुसार 3 तथ 5 साल की छूट मिलती है।
  • लोको पायलट के नियुक्ति के लिए जो एग्जाम लिया जाता है उंसमे अच्छे कटऑफ के साथ उत्तीर्ण होना पड़ेगा।

Loco pilot kaise Bane

अगर आप को लोको पायलट बनना है तो आप को पता होनी चाहिए कि रेलवे डायरेक्ट सीनियर लोको पायलट के पद पर प्रमोट नहीं करते। पहले असिस्टेंट लोको पायलट के तौर पर नियुक्त करते, उसके बाद सीनियर लोको पायलट के पद पर प्रमोट किया जाता है।

असिस्टेंट लोको पायलट कैसे बने इसके बारे में जानने के लिए आप कृपया नीचे दी गई स्टेप बाय स्टेप जानकारी को बारीकियों से अनुसरण करें;

  • 10वीं या 12वीं पास करे: लोको पायलट बनने के लिए किसी भी विद्यार्थियों को न्यूनतम 10वीं पास करना जरूरी है।
  • आईटीआई या डिप्लोमा करे: अगर अपने 10वीं या 12वीं पूरा कर लिए है तो अब आपको आईटीआई या डिप्लोमा कोर्स करना चाहिए मैकेनिकल, इलेक्ट्रॉनिक, इलेक्ट्रिकल, फिटर, ऑटोमोबाइल आदि स्ट्रीम से।

अगर आप आईटीआई कोर्स करते है तो इसकी समयावधि दो साल की होती है परंतु यदि आप डिप्लोमा करते है तो तीन साल की समय लगेगा।

  • ALP का फॉर्म भरे: अगर अपने 10वीं या 12वीं के पश्चात आईटीआई या फिर डिप्लोमा कोर्स कंपलीट कर लिए है तो अब आपको एएलपी एप्लीकेशन के लिए इन्तेजार करना होगा।

लगभग हर साल रेलवे द्वारा इस पोस्ट के लिए फॉर्म छोड़ी जाती है। वेकैंसी का अपडेट के लिए आप रेलवे का ऑफिशियल वेबसाइट पर समय समय विजिट कर सकते है। और जॉब फॉर्म निकले तब फॉर्म फिलअप करना है।

फॉर्म भरने के लिए सबसे पहले उम्मीदवार को रजिस्ट्रेशन करना होगा। रजिस्ट्रेशन के लिए उम्मीदवार के नाम, डेट ऑफ बर्थ, मोबाइल नंबर तथा ईमेल आईडी की आवश्यकता होगी। एक बार रजिस्ट्रेशन हो जाने पर 

  • एग्जाम की तैयारी करें: फॉर्म भरने के पहले से ही आपको इसके एग्जाम लिए तैयारी आरंभ कर देनी चाहिए। तैयारी लिए एग्जाम की सिलेबस तथा पैटर्न के बारे में डिटेल्स जानकारी होनी चाहिए।
  • एग्जाम की पैटर्न को समझे: लोको पायलट बनने हेतु जो ALP एग्जाम लिया जाता है उसमें सभी एमसीक्यू सवाल होते है। ALP का एग्जाम सीबीटी-1 और सीबीटी-2 के रूप में दो लिखित एग्जाम आयोजित किया जाता है। सीबीटी-1 में टोटल 75 सवाल पूछे जाते है जिसे हाल करने के लिए 60 मिनट मिलते है।

वही सीबीटी-2 में दो पार्ट होती है पार्ट-A और पार्ट-B. पार्ट-A में टोटल 100 सवाल पूछे जाते है जिसके लिए 90 मिनट मिलते और पार्ट-B में टोटल 75 सवाल होते है जिसे हाल करने हेतु 60 मिनट मिलते है।

ध्यान रहे सीबीटी-1 तथा सीबीटी-2 में नेगेटिव मेर्किंग भी होती है। इंसमे हर एक गलत जवाब के लिए ⅓ अंक कट लिया जाता है। इसलिए किसी भी सवाल का जवाब देते समय ध्यानपूर्वक देना जरूरी है।

  • एएलपी एग्जाम की सिलेबस को समझे: किसी भी एग्जाम को क्रैक करने के लिए उसके सिलेबस के बारे में जानकारी होना अनिवार्य है। बिना सिलेबस जाने आप किसी भी एग्जाम को क्रैक नहीं कर सकते।

इस एग्जाम के सिलेबस के डिटेल्स आप नीचे देख सकते है;

लोको पायलट CBT-1 एग्जाम सिलेबस

SI.No.सब्जेक्ट्सटॉपिक
1.मैथेमेटिक्सनंबर सिस्टम, बोडमस, डेसीमल, एलसीएम, एचसीएम, फ्रैक्शन, परसेंटेज, रेश्यो एंड प्रोपोर्शन, टाइम एंड वर्क, टाइम एंड डिस्टेंस, प्रॉफिट एंड लॉस, सिंपल एंड कंपाउंड इंटरेस्ट, स्क्वायर रुट, क्यूब रुट, पाइप एंड सिस्टर्न, ऐज कैलकुलेशन, एलीमेंट्री स्टेटिस्टिक्स, अलजेब्रा, ज्योमेट्री एंड ट्रिग्नोमेट्री, मेंसुरेशन, क्लॉक एंड कैलेंडर, आदि।
2.जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंगएनालॉजी, कोडिंग एंड डिकोडिंग, रिलेशनशिप, अल्फाबेटिकल एंड नंबर सीरीज, मैथेमेटिकल ऑपरेशन, वेन डायग्राम, सिल्लोगिस्म, डेटा इंटरप्रेटेशन एंड सफिसियानसी, जुम्बलिंग, एनालिटिकल रीजनिंग, सिमिलारिटीस एंड डिफरेंस, कंक्लूशन एंड डिसीजन, डायरेक्शन, क्लासिफिकेशन, इत्यादि।
3.जनरल साइंस10वीं स्टैंडर्ड का फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी
4.जनरल अवेयरनेस एंड करंट अफेयर्ससाइंस एंड टेक्नोलॉजी, स्पोर्ट्स, गेम, इकोनॉमिक्स, पेरसोनलिटीस, कल्चर, पॉलिटिक्स

लोको पायलट CBT-2 एग्जाम सिलेबस

SI.No.सब्जेक्टसटॉपिक
1.मैथेमेटिक्सनंबर सिस्टम, बोडमस, डेसीमल, एलसीएम, एचसीएम, फ्रैक्शन, परसेंटेज, रेश्यो एंड प्रोपोर्शन, टाइम एंड वर्क, टाइम एंड डिस्टेंस, प्रॉफिट एंड लॉस, सिंपल एंड कंपाउंड इंटरेस्ट, स्क्वायर रुट, क्यूब रुट, पाइप एंड सिस्टर्न, ऐज कैलकुलेशन, एलीमेंट्री स्टेटिस्टिक्स, अलजेब्रा, ज्योमेट्री एंड ट्रिग्नोमेट्री, मेंसुरेशन, क्लॉक एंड कैलेंडर, आदि।
2.जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंगएनालॉजी, कोडिंग एंड डिकोडिंग, रिलेशनशिप, अल्फाबेटिकल एंड नंबर सीरीज, मैथेमेटिकल ऑपरेशन, वेन डायग्राम, सिल्लोगिस्म, डेटा इंटरप्रेटेशन एंड सफिसियानसी, जुम्बलिंग, एनालिटिकल रीजनिंग, सिमिलारिटीस एंड डिफरेंस, कंक्लूशन एंड डिसीजन, डायरेक्शन, क्लासिफिकेशन, इत्यादि।
3.बेसिक साइंस एंड इंजीनियरिंगइंजीनियरिंग ड्राइंग, मेज़रमेंट, यूनिट्स, वर्क पावर एंड एनर्जी, मास वेट एंड डेंसिटी, हीट एंड टेम्परेचर, स्पीड एंड वेलोसिटी, बेसिक इलेक्ट्रिसिटी, ऑक्यूपेशनल सेफ्टी एंड हेल्थ, इत्यादि
4.जनरल अवेयरनेस एंड करंट अफेयर्ससाइंस एंड टेक्नोलॉजी, स्पोर्ट्स, गेम, इकोनॉमिक्स, पेरसोनलिटीस, कल्चर, पॉलिटिक्स
  • एडमिट कार्ड डाउनलोड करे: एप्लीकेशन फॉर्म भरने के कुछ समय बाद रेलवे के ऑफिशियल वेबसाइट पर एडमिट कार्ड जारी कर दिया जाता है उसे डाउनलोड करना है। जिसमे एग्जाम के समय और जगज सब उल्लेख होते।
  • अच्छे से एग्जाम पूरा करे: एग्जाम पैटर्न बताते समय हमने आपको बताये है कि इंसमे सब एमसीक्यू सवाल पूछे जाते है यानी एक सवाल के लिए चार ऑप्शन मिलते है जिसमे से आपको सही वाले ऑप्शन चुनना होता।

इस एग्जाम में नेगेटिव मेर्किंग भी होती है यानी एक गलत जवाब के लिए ⅓ अंक कट लिया जाता है। इसलिए सवाल का हल करते समय खास ध्यान रखना आवश्यक है।

  • मेडिकल टेस्ट: सीबीटी-1 तथा सीबीटी-2 सफलतापूर्वक उत्तीर्ण करने वाले उम्मीदवारों को मेडिकल टेस्ट के लिए बुलाया जाता है। जिसमे मुख्यतः आपके आंखों का क्षमता जांच किया जाता है।

नियर विज़न के लिए 6/6, 6/6 चश्मे के साथ और चश्मे के बिना होना चाहिए। वही दूर दृष्टि के लिए चश्मे के साथ और चश्मे के बिना 6/9, और 6/12 होना चाहिए। आंखों के टेस्ट के अलावा ECG,  X ray और मधुमेह तथा रक्तचाप का परीक्षण किया जाता है।

  • दस्तावेजों की जांच: सीबीटी और मेडिकल टेस्ट में जिन अभ्यर्थी सफलतापूर्वक उत्तीर्ण होते है उन्हें डाक्यूमेंट्स वेरिफिकेशन के लिए बुलाया जाता है।

जिसमे अभ्यर्थी का माध्यमिक पास सर्टिफिकेट, मार्कशीट, एडमिट कार्ड, NCVT/SCVT द्वार मान्यता प्राप्त आईटीआई सर्टिफिकेट या फिर AICTE द्वारा मान्यता प्राप्त डिप्लोमा कोर्स का सर्टिफिकेट, आधार कार्ड, डोमिसाइल सर्टिफिकेट, NOC आदि का जांच किया जाता है।

  • असिस्टेंट लोको पायलट के तौर पर नियुक्ति: जो अभ्यर्थी सफलतापूर्वक सारे चरण में उत्तीर्ण हो जाएंगे उन्हें रेलवे अथॉरिटी द्वारा असिस्टेंट लोको पायलट के रूप में नियुक्त किया जाएगा।

यह पढ़े:

लोको पायलट की तैयारी के लिए बेस्ट बुक

लोको पायलट बनने के लिए ALP की एग्जाम देना होता जिसके तैयारी के लिए बाजार में कई सारे किताब मिल जाएगा परंतु एक्सपर्ट के अनुसार जिन किताबें पढ़ने की सलाह दिया जाता है उसके लिस्ट यहां दिया गया है। इन किताबों से ज्यादातर सवाल आपको देखने को मिल जाएगा;

लोको पायलट की तैयारी के लिए बेस्ट किताब,loco pilot kaise bane
लोको पायलट की तैयारी के लिए बेस्ट किताब
S.I No.सब्जेक्ट्सरिकमेन्डेशन
1.मैथेमेटिक्सObjective Arithmetic (Dr. R.S Aggarwal)
2.रीजनिंगMulti Dimensional Reasoning: Verbal & Non-Verbal (Dr. Lal Mishra & Kumar)
3.जनरल नॉलेजIndia’s Best General Knowledge 2023 (Manohar pandey)
4.करंट अफेयर्सCurrent Affairs Yearly 2022 (Arihant Experts)

लोको पायलट सैलरी

किसी भी पेशा में आने से पहले उंसमे कितना सैलरी मिलेगा उसके बारे में जानकारी होना आवश्यक है। अगर हम लोको पायलट की सैलरी की बात करे तो सुरुवात में रेलवे में आपको असिस्टेंट लोको पायलट के तौर पर नियुक्त किया जाता है।

जब आपको काम के एक्सपीरियंस हो जाते है तब असिस्टेंट लोको पायलट से लोको पायलट के पद में प्रमोशन दिया जाता है। इसलिए लोको पायलट और असिस्टेंट लोको पायलट के सैलरी में थोड़ा अंतर होती है।

फिरभी यदि सुरुवात में लोको पायलट की सैलरी देखा जाए तो उन्हें हर महीने शानदार सैलरी पैकेज प्रदान किया जाता है जो ₹19,900 से ₹35,000 के बीच होती है। सैलरी के अलावा लोको पायलट को कई सारे भत्ते भी प्रदान किया जाता है जिनमे से मुख्य है; महंगाई भत्ते, हाउस रेंटल अलाउंस, परिवहन भत्ता, चिकित्सा भत्ता, रात्रि ड्यूटी भत्ता, एजुकेशनल भत्ता, इत्यादि।

महत्वपूर्ण जानकारी:

लोको पायलट से जुड़े महत्वपूर्ण जानकारियां

• लोको पायलट फॉर्म कब निकलेगा?

यह अनुमान लगाना संभव नहीं कि कब लोको पायलट की भर्ती के लिए फॉर्म छोड़ी जाएगी। परंतु समय समय पर इसके भर्तियां निकाली जाती है। वेकैंसी से जुड़े अपडेट के लिए आप रेलवे के ऑफिशियल वेबसाइट को समय समय पर विजिट करते रहिए।

इसके अलावा अखबार और ऐसे कई सारे जॉब पोर्टल है जहाँ से आप वेकैंसी से जुड़े जानकारी प्राप्त कर सकते है।

• लोको पायलट किस ग्रुप में आता है?

यह ग्रुप-C का एक सम्मानित पद है। पहले इंसमे असिस्टेंट लोको पायलट के तौर पर नियुक्त किया जाता है, उसके बाद एक्सपीरियंस होने पर लोको पायलट के पद पर प्रमोशन किया जाता है।

• लोको पायलट के लिए कौन सी पढ़ाई करें?

लोको पायलट बनने हेतु रेलवे ऑथोरिटी द्वारा जो न्यूनतम योग्यता तय किया गया है वह है, उम्मीदवारों को कम से कम 10वीं पास करना होगा और साथ मे या तो दो साल की आईटीआई अन्यथा तीन साल की डिप्लोमा कोर्स करना होगा। इसके अलावा लोको पायलट के लिए कोई खास योग्यता की मांग नहीं कि जाति है।

• लोको पायलट के कितने पेपर होते हैं?

लोको पायलट की नियुक्ति की प्रक्रिया में टोटल दो चरणों मे लिखित एग्जाम आयोजित किया जाता है; सीबीटी-1 और सीबीटी-2. सीबीटी-1 में टोटल चार सब्जेक्ट होते है 75 अंको की, वही सीबीटी-2 में दो पार्ट होते है; पार्ट-A और पार्ट-B. पार्ट-A जिसमे चार सब्जेक्ट होते है 100 अंको की और पार्ट-B जिसमे 75 अंक होते है, इंसमे संबंधित ट्रेड से सवाल पूछे जाते है।

• 12वीं के बाद लोको पायलट कैसे बने?

अगर आप 12वीं के पश्चात लोको पायलट बनना चाहते है तो आपको या तो 12वीं के बाद आईटीआई अन्यथा डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग की कोर्स करना होगा उसके बाद एएलपी की फॉर्म भरकर लोको पायलट बन सकते है।

• लोको पायलट बनने में कितना खर्च आता है?

लोको पायलट एक सरकारी नौकरी होने के नाते इंसमे एक भी पैसे खर्च नहीं होते। इंसमे सिर्फ फॉर्म भरते समय ₹250 से ₹500 की आवेदन शुल्क लिया जाता है लेकिन अगर आप एग्जाम देते है तो यह शुल्क भी आपके बैंक खाते में रिटर्न कर दिया जाता है। यानी इंसमे एक पैसे का खर्च नहीं होता।

निष्कर्ष: फ्रेंड्स आज की लेख में Loco pilot kaise Bane उसके बारे में हमने विस्तार से चर्चा की है। आशा करते है कि लोको पायलट की योग्यता, लोको पायलट की सैलरी, आदि के बारे आपको अच्छे से समझ आयी है।

अगर इस लेख से जुड़े आपके मन मे कोई भी सवाल है तो कमेंट सेक्शन में पूछ सकते है। और अगर हमारे लिए कोई सुझाव है तो अवश्य कमेंट करें, इससे हम अपने कंटेंट को सुधार कर पाएंगे।

दोस्तों कृपया आप इस लेख को अपने दोस्तों के साथ फेसबुक, व्हाट्सऐप जैसे किसी भी दूसरे सोशल मीडिया प्लेटफार्म में ज्यादा से ज्यादा शेयर करे ताकि बाकी लोगों को इसके बारे में पता चले और हमे भी काम करने में प्रत्साहन मिले।

ऐसे ही कोर्स और करियर से जुड़े जानकारी के लिए आप हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब करे और हमारे टेलीग्राम चैनल से अवश्य जुड़े जहां हम रोजाना एजुकेशन से जुड़े जानकारी साझा करते रहते है।

अवश्य पढ़ें:

दोस्तों के साथ शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *