Dresser Course Details, किसे और क्यों करना चाहिए, सही तथ्य

क्या आप Dresser Course Details in Hindi के बारे में जानना चाहते है? अगर ऐसा है तो आप बिलकुल सही जगह पर आए है। इस लेख में हम आप से Dresser Course यानी CMD Course के बारे में रूबरू करवाएंगे।

यहां आप जानेंगे कि Dresser Course क्या है, क्या काम करना पड़ता है, एडमिशन कैसे मिलेगा, कोर्स का समयावधि कितना हॉ, फीस कितना देना होगा, नौकरी कहाँ मिलेगी, सैलरी कितना होगा, इत्यादि।

Dresser Course Details in Hindi

Dresser course details in hindi,dresser course kya hai
Dresser Course Details

ड्रेसर कोर्स को CMD Course के नाम से भी जाने जाते है, जिसका पूरा नाम है “सर्टिफिकेट इन मेडिकल ड्रेसर”. यह एक साल की सर्टिफिकेट कोर्स है, जिसमे विद्यार्थियों को मुख्यतः ड्रेसिंग के बारे में शिक्षा प्रदान किया जाता है।

इंसमे एडमिशन के लिए विद्यार्थियों को किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं पास करना होता हालांकि, कुछ कॉलेजों में 10वीं करने वाले अभ्यर्थियों को भी कोर्स करने का मौका प्रदान किया जाता है।

इस कोर्स में सामान्यतः डायरेक्ट एडमिशन मिलता है परंतु कुछ कॉलेजों में नंबर के आधार पर भी एडमिशन लिया जाता है। इस कोर्स को करने के पश्चात हॉस्पिटल, नर्सिंग होम, क्लिनिक आदि में डॉक्टर के सहायक के तौर पर काम करने का मौका प्राप्त होती है।

Dresser Course kya Hai

जैसे कि हमने पहले बताये है कि ड्रेसर कोर्स का पूरा नाम है सर्टिफिकेट इन मेडिकल ड्रेसर। यह 1 साल की सर्टिफिकेट कोर्स है जिसमे ड्रेसिंग के बारे अच्छे से सिखाया जाता है। इंसमे एनाटोमी एंड फिजियोलॉजी, सर्जिकल इंस्ट्रूमेंट्स, स्टेरिलाइजेशन जैसे विषयों का अध्ययन करना होता।

आप अक्षर देखे होंगे हॉस्पिटल, नर्सिंग होम और क्लिनिक आदि में ड्रेसिंग के लिए एक पेशेवर व्यक्ति होते है जिनका मुख्य काम होता है, मरीजों का ड्रेसिंग करना, सर्जिकल इंस्ट्रूमेंट्स का स्टेरिलाइजेशन करना, फ़ास्ट ऐड की परिसेवा प्रदान करना, इत्यादि।

महत्वपूर्ण लेख:

Dresser Course Eligibility (ड्रेसर कोर्स के योग्यता)

हर कोर्स की तरह ड्रेसर कोर्स के उम्मीदवारों को भी कुछ न्यूनतम योग्यता से गुजरना होता, जिसके बारे में हमने नीचे बिंदु अनुसार चर्चा की है;

  • उम्मीदवारों को न्यूनतम 12वीं पास करना होता किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से। हालांकि कुछ इंस्टीट्यूट्स में 10वीं किये विद्यार्थियों को भी कोर्स करने का मौका प्रदान किया जाता है।
  • विद्यार्थियों को कम से कम 45 प्रतिशत नंबर प्राप्त करना होता तभी इस कोर्स के लिए योग्य बनते।
  • उम्मीदवारों को देखने में अच्छे से समर्थ होनी चाहिए।

ड्रेसर कोर्स किसे करना चाहिए

जितने पात्रता हमने ऊपर चर्चा की है अगर आपके वह सारे है तो आप आसानी से इस कोर्स को कर सकते है। इसके अलावा यदि आप कोई फार्मासिस्ट है और बड़े बड़े पब्लिक सेक्टर कंपनियों में जॉब करना चाहते है तो आप इस कोर्स को कर सकते है।

क्योंकि, ज्यादातर इंडस्ट्रियल सेक्टर में वैसे फार्मासिस्टों को नियुक्त किया जाता है जिनके पास फार्मेसी के साथ साथ फेस्ट ऐड या फिर ड्रेसर का डिग्री होते है।

Dresser Course Admission process

यदि आप ड्रेसर कोर्स के एडमिशन के बारे में सोच रहे है तो आपको बता दे इंसमे आप आसानी से एडमिशन ले सकते है। ज्यादातर इंस्टीट्यूट्स में डायरेक्ट एडमिशन लिया जाता है।

ऐसे में आपको कोई एग्जाम या मेरिट पे आने की जरूरत नहीं, आप जिस कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते है उस कॉलेज में जाकर एडमिशन ले सकते है।

इसके अलावा कुछ इंस्टीट्यूट्स में 10वीं या 12वीं में प्राप्त नंबर के आधार पर एडमिशन लिया जाता है। ऐसे में एडमिशन लेने वाले उम्मीदवारों को आवेदन करना होता पूरे डिटेल्स के साथ।

उसके बाद कॉलेज द्वारा 10वीं या 12वीं में प्राप्त नंबर के आधार पर उम्मीदवारों को चुना जाता है। इसके पश्चात कॉलेज में जाकर एडमिशन फीस जमा करते ही कोर्स में दाखिला मिल जाते है।

Dresser Course Syllabus in Hindi

दूसरे मेडिकल कोर्स की तरह ड्रेसर कोर्स की सिलेबस कठिन नहीं होता, इंसमे सारे बेसिक जानकारी प्रदान किया जाता है। इस कोर्स में जो भी विषयों के बारे में अध्ययन करना होता उसके बारे में आप यहां बिंदु अनुसार देख सकते है;

थ्योरी सब्जेक्ट्स

S. Lविषयटोटल नंबरपासिंग नंबर
1.एनाटोमी एंड फिजियोलॉजी10050
2.बेसिक फार्माकोलॉजी10050
3.ड्रेसिंग, सर्जिकल इंस्ट्रूमेंट्स एंड स्टेरिलाइज़ेशन10050

प्रैक्टिकल सब्जेक्ट्स

S.Lविषयटोटल नंबरपासिंग नंबर
1.प्रैक्टिकल10050
2.वाइवा (Viva)4020

Dresser Course Duration (ड्रेसर कोर्स का समयावधि)

ड्रेसर कोर्स की समयावधि है 1 साल, इंसमे दो सेमेस्टर होते है। हालांकि कुछ इंस्टीट्यूट्स में वार्षिक परीक्षा भी आयोजित किया जाता है।

Dresser Course fees (ड्रेसर कोर्स की फीस)

इंस्टीट्यूट्स के हिसाब से कोर्स का फीस भिन्न भिन्न होता है। इसलिए कोर्स का वास्तविक फीस का अनुमान लगाना सही नहीं होगा। फिरभी यदि हम इसके औसतन फीस की बात करे तो ₹15,000 से ₹45,000 तक हो सकती है।

यदि आप किसी एक इंस्टीट्यूट्स का वास्तविक फीस के बारे में जानकारी पाना चाहते है तो इसके ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर इसके बारे में चेक कर सकते है।

Career Aspect of Dresser Course (ड्रेसर कोर्स के बाद क्या करे)

यदि आप सोच रहे है कि ड्रेसर कोर्स के बाद क्या करे तो आपको बता दे, आप इस कोर्स के माध्यम के ड्रेसिंग तथा फ़ास्ट ऐड का स्किल्स डेवेलोप कर सकते है। कोर्स पूरा होने के पश्चात आप को ज्यादातर प्राइवेट अस्पताल, नर्सिंग होम, प्राइवेट क्लिनिक, में ड्रेसर के तौर कर काम कर सकते है। इसके अलावा कंपाउंडर भी बन सकते है।

यदि आपका पहले से फार्मेसी का कोर्स किया हुआ है तो ड्रेसर का कोर्स करने के पश्चात बड़े बड़े प्राइवेट तथा पब्लिक सेक्टर इंडस्ट्रीज में नौकरी पाने में प्राथमिकता मिलेगी।

Dresser Salary (ड्रेसर कोर्स के बाद सैलरी)

यह एक सर्टिफिकेट कोर्स होने के नाते आप इससे अधिक सैलरी की उम्मीद नहीं कर सकते हालांकि यदि आप फार्मेसी या फिर किसी दूसरे पैरामेडिकल कोर्स के साथ यह कोर्स करते है तो आप आपको अच्छे खासे सैलरी पैकेज मिल सकते है।

यदि हम सिर्फ ड्रेसर कोर्स किये हुए उम्मीदवारों के सैलरी की बात करे तो सुरुवात में प्रति माह ₹7,500 से ₹10,000 तक की सैलरी मिलते है। वही यदि आप किसी कंपनी में फार्मासिस्ट कम ड्रेसर के तौर पर काम करते है तो आपको हर महीने अच्छे वेतन प्राप्त हो सकती है।

निष्कर्ष: आज की लेख में हम Dresser Course Details in Hindi के बारे के विस्तार से चर्चा की है। आशा करते है आपको यह जानकारी पसंद आई होगी। अगर पसंद आई है तो अपने दोस्तों के सोशल मीडिया प्लेटफार्म में इस लेख को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि जन्हें भी Dresser Course के बारे में पता चले।

अगर आपको इस लेख से जुड़े कोई भी जिज्ञासा है तो कमेंट सेक्शन में पूछ सकते है, हम आपके सहायता के लिए हमेशा हाजिर रहेंगे। और कोर्स और करियर से जुड़े जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग FutureBanaye.com को सब्सक्राइब करे एबं हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े।

महत्वपूर्ण लेख:

दोस्तों के साथ शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *