Dialysis Course Details, योग्यता, एग्जाम, फीस, स्कोप, सैलरी, नौकरी

यदि आप डायलिसिस तकनीशियन बनना चाहते है परंतु आपको पता नहीं कि Dialysis Technician kaise Bane तो इस लेख को ध्यानपूर्वक पढ़े यहां हमने Dialysis Course Details in Hindi भाषा मे चर्चा की है।

स्कूल में पढ़ाई के दौरान ज्यादातर विद्यार्थी आगे चलकर डॉक्टर या इंजीनियर बनना चाहते है परंतु इंसमे ज्यादा फीस होने के चलते सभी का सपना साकार नहीं हो पता। ऐसे में उन्हें दूसरे कोर्स की तलाश करना पड़ता है, जिसकी डिमांड आने वाले समय के साथ तेजी से बढ़ेगी।

अगर आप इस परेशानी में है कि कौन सा कोर्स चुनेंगे तो आपको बता दूं मेडिकल क्षेत्र में एक ऐसी कोर्स है जिसकी मांग कभी भी खत्म नहीं होगी, उस कोर्स का नाम है Dialysis Course.

जी हां, आज की लेख में हम चर्चा करेंगे कि, डायलिसिस कोर्स क्या है, Dialysis Technician कैसे बने, डायलिसिस तकनीशियन कोर्स फीस, इसकी एडमिशन प्रॉसेस, सिलेबस और सब्जेक्ट्स, डायलिसिस कोर्स के बाद क्या करे, कौन सा नौकरी मिलेगा, सैलरी कितनी होगी, इत्यादि Dialysis Course Details in Hindi में।

Dialysis Course Details in Hindi

डायलिसिस एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें रक्त से अतिरिक्त पानी, अन्य घुले हुए पदार्थ और विषाक्त पदार्थ निकाल दिए जाते हैं ताकि गुर्दे (किडनी) शरीर में अधिक सुचारू रूप से काम कर सकें। डायलिसिस काम करने के लिए उम्मीदवारों को पढ़ाई करना होता तभी वह डायलिसिस करने में सक्षम हो पाते, और डायलिसिस करने वालों को ही Dialysis Technician कहते है।

आज के समय डायलिसिस टेक्नीशियन वालों की मांग हमारे देश के अलावा विदेशों में भी है। डायलिसिस तकनीशियन बनने के लिए Dialysis Course करना पड़ता है। इसके अंदर कई सारे डिग्रीयां है जिसके बारे में आगे चर्चा की गई है।

अब आइये जानते है कि डायलिसिस कोर्स क्या है एयर इसे कैसे करेंगे और इसके लिए क्या योग्यता होनी चाहिए।

Dialysis course details, dialysis course details in hindi, dialysis course fees
Dialysis Course Details

डायलिसिस कोर्स क्या है

जैसे आपको पहले ही बताया है कि डायलिसिस एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमे रक्त से अधिक जमा हुआ पानी, घुले हुए दूसरे विषाक्त पदार्थ को निकाला जाता है। यह काम करने के लिए डायलिसिस टेक्नीशियन की जरूरत पड़ती है, जिन्हें डायलिसिस टेक्नीशियन का कोर्स करना होता।

Dialysis Technician Course के अंदर सर्टिफिकेट, डिप्लोमा, बैचलर और मास्टर डिग्रीयां है। इन कोर्स के समयावधि एक साल से तीन साल की होती है। डायलिसिस की अलग अलग कोर्स में 10वी और 12वी की विद्यार्थियों को एडमिशन लिया जाता है।

जो विद्यार्थी 12वीं के बाद मेडिकल कोर्स में रुचि रखते है उनके लिए यह एक अच्छा मार्ग है। डायलिसिस कोर्स पूरा होने के बाद नेफ्रोलॉजिस्ट, डायलिसिस टेक्नीशियन, थेरप्यूटिक असिस्टेंट, प्रोफेसर, मेडिकल टेक्नीशियन जैसे पदों में अस्पताल, नर्सिंग होम, क्लिनिक, डायग्नोस्टिक सेंटर, फार्मास्यूटिकल जैसे इंडस्ट्रीज में नौकरी करने का अवसर मिलता है।

Dialysis Course Details (Dialysis Technician कैसे बने)

आशा करते है आपको समझ आ गया होगा कि डायलिसिस कोर्स क्या है। अब आइये जानते है, डायलिसिस टेक्नीशियन कैसे बने और इसके लिए क्या पात्रता होनी चाहिए।

डायलिसिस एक पैरामेडिकल कोर्स है इसके अंतर्गत सर्टिफिकेट, डिप्लोमा, ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन, पीएचडी, एमफिल जैसे कोर्स होते है, जिसके बारे में आगे चर्चा की गई है।

सर्टिफिकेट डायलिसिस कोर्स: डायलिसिस की सर्टिफिकेट कोर्स 6 महीने से 1 साल की होती है। इसके लिए विद्यार्थियों को कम से कम 10वी की पढ़ाई करनी होती है। कोई इस कोर्स में एनरोल हो सकता है।

इसे ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही मूड में करने का सुविधा उपलब्ध है। ज्यादातर विदेशी इंस्टीट्यूट में ऑनलाइन यह कोर्स करवाई जाती है। इंसमे हेमोडायलिसिस मशीन को इस्तेमाल करके डायलिसिस करने का प्रॉसेस सिखाई जाती है और डायलिसिस के बारे में बेसिक जानकारी दी जाती है।

डिप्लोमा डायलिसिस कोर्स: डिप्लोमा इन डायलिसिस 2.5 साल की एक डिप्लोमा कोर्स है, जिसमे कुल 4 सेमेस्टर देने पड़ते, और फाइनल एग्जाम के पश्चात 6 माह का इंटर्नशिप करना होता है किसी सरकारी अस्पताल से।

यह एक ऐसी कोर्स है जिसे डिज़ाइन किया गया है पेशेवर डायलिसिस टेक्नीशियन बनाने के लिए जो अस्पताल, नर्सिंग होम, डायलिसिस सेंटर, पैरामेडिकल इंस्टीट्यूट जैसे क्षेत्र में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे सके।

इस कोर्स में दाखिला लेने हेतु उम्मीदवारों को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वी पास करना होता फिइस्क्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी विषय लेकर या इसके समकक्ष कोई डिग्री करना होता।

जनरल वर्ग के विद्यार्थियों के लिए 12वी में कम से कम 45 प्रतिशत नंबर प्राप्त करनी चाहिए और आरक्षण वर्ग के 5 नंबर की छूट दी जाती है। अलावा विद्यार्थियों की आयु न्यूनतम 17 साल होना अनिवार्य है और सर्वाधिक आयु की कोई लिमिट नहीं है।

बीएससी डायलिसिस कोर्स: बीएससी इन डायलिसिस टेक्नोलॉजी कोर्स को बीएससी इन रेनल डायलिसिस टेक्नोलॉजी कोर्स भी कहते है। इसकी समयावधि है 3 साल; जो 6 सेमेस्टर में बंटा गया है। प्रत्येक सेमेस्टर छह माह के अंतराल में आयोजित किया जाता है।

इस कोर्स में कोई भी विद्यार्थी जो फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी लेकर 12वी या उसके समकक्ष कोई योग्यता हासिल किया हो न्यूनतम 45 प्रतिशत नंबर के साथ वह इस कोर्स के लिए योग्य माना जाता है।

इसके अतिरिक्त विद्यार्थियों का आयु कम से कम 17 साल की होनी चाहिए, अन्यथा कोर्स में दाखिला नहीं मिलेगी। इसके लिए मुख्यतः एंट्रेंस एग्जाम और मेरिट के आधार पर एडमिशन लिया जाता है, कुछ कॉलेज या यूनिवर्सिटीज इंटरव्यू भी आयोजित किया जाता है एडमिशन के लिए।

तीन साल की बीएससी डायलिसिस डिग्री में ह्यूमन एनाटोमी, बायोकेमिस्ट्री, फिजियोलॉजी, पैथोलॉजी, माइक्रोबायोलॉजी, कांसेप्ट ऑफ रेनल डिजीज, डायलिसिस एंड न्यूट्रिशन, हेल्थ केअर, फार्माकोलॉजी जैसे विषयों के बारे में ज्ञान प्रदान की जाती है ताकि मेडिकल क्षेत्र में पेशेवर डायलिसिस टेक्नीशियन मिल सके।

एमएससी डायलिसिस कोर्स: यह 2 साल की पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स है जिसे चार सेमेस्टर में बंटा गया है। इंसमे दाखिल होने के लिए उम्मीदवारों को कम से कम तीन साल की बीएससी डायलिसिस कोर्स पूरा करना होता।

इसके बाद कुछ यूनिवर्सिटीज में मेरिट के आधार पर एमएससी डायलिसिस कोर्स दाखिला मिलते है तो कुछ यूनिवर्सिटीज में मेरिट के आधार पर, इस मामले में बीएससी में प्राप्त नंबर के आधार पर मेरिट लिस्ट जारी करके एडमिशन लिया जाता है।

बीएससी इन डायलिसिस के बाद जो विद्यार्थी हायर स्टडी करने का रुचि रखते है उनके लिए यह सबसे अच्छा कोर्स है। इंसमे किसी एक विषय मे मास्टरी हासिल किया जाता है।

एमएससी इन डायलिसिस की कोर्स पूरा होने के बाद विद्यार्थी पीएचडी इन डायलिसिस टेक्नोलॉजी का कोर्स कर सकते है।

Dialysis Technician kaise Bane

डायलिसिस टेक्नीशियन बनने के लिए निम्नलिखित स्टेप्स को ध्यानपूर्वक फॉलो करें, यहां हमने स्टेप बाई स्टेप सारे जानकारी बताये है डायलिसिस तकनीशियन बनने के लिए;

साइंस लेकर 12वी पूरा करे: अगर आप Dialysis course करना चाहते है तो सबसे पहले आपको 12वी पूरा करना होगा साइंस लेकर, जिसमे फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी होना अनिवार्य है।

इन सभी सब्जेक्ट्स में विद्यार्थियों को कम से कम 45% नंबर प्राप्त करना होगा और अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजातियों के विद्यार्थियों के लिए नियमानुसार 5 नंबर की छूट दी जाती है।

एंट्रेंस एग्जाम: ज्यादातर सरकारी और बड़े बड़े कॉलेज यूनिवर्सिटी में एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम आयोजित किया जाता है। कुछ एग्जाम जैसे कि DUCET, ICET, DAVV CET, JEE Main, SMFWB, BITSAT, VITEEE, UPSEE इत्यादि।

एप्लीकेशन फील उप: आप जो भी एग्जाम देंगे उसके ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा। इसके लिए आपको पहले अपना नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, डेट ऑफ बर्थ, आधार नंबर इत्यादि दर्ज करके रजिस्ट्रेशन करना होगा।

इसके बाद यूजरनाम और पासवर्ड के जरिए लॉगिन होने के पश्चात अपना पूरी डिटेल्स और शैक्षणिक योग्यताओं की डिटेल्स एबं उसके स्कैन कॉपी अपलोड करना आवेदन शुल्क जमा करके आवेदन प्रक्रिया पूरा करना होगा।

काउंसलिंग: एंट्रेंस एग्जाम होने के बाद मेरिट लिस्ट जारी किया जाता है, अगर उंसमे अपना नाम निकालता है तो काउंसलिंग में हिस्सा लेना पड़ता।

एडमिशन: काउंसलिंग में सीट एलोकेशन के पश्चात उम्मीदवारों को कुछ फीस जमा करके सीट बुक करना होता, और कॉलेज में जाकर दस्तावेजों की सत्यापन करके एडमिशन फीस जमा देकर एडमिशन लेना होता।

डायलिसिस कोर्स करें: कोर्स में एडमिशन लेने के पश्चात उम्मीदवारों को डायलिसिस का कोर्स पूरा करना होता उसके बाद कोर्स पूरा हो जाने पर पैरामेडिकल कौंसिल में अपना नाम रजिस्टर करना पड़ता। जब कौंसिल में नाम रजिस्टर हो जाएगा तब आपको डायलिसिस तकनीशियन का रजिस्ट्रेशन नंबर प्राप्त हो जाएगी और आप रजिस्टर डायलिसिस टेक्नीशियन बन जाएंगे।

Dialysis Course fees (डायलिसिस तकनीशियन कोर्स फीस)

जैसे कि आपको पता चल गया होगा कि डायलिसिस टेक्नीशियन बनने अलग अलग डिग्रीयां उपलब्ध है, और इन सभी भिन्न भिन्न कोर्स के फीस भी भिन्न होती है। आमतौर पर सरकारी कॉलेज में फीस कम होती है परंतु प्राइवेट कॉलेज बहुत ही ज्यादा फीस जमा करना पड़ता है।

यदि औसतन सर्टिफिकेट डायलिसिस कोर्स की फीस देखा जाए तो ₹5,000 से ₹25,000 प्रति वर्ष होती है, और डिप्लोमा इन डायलिसिस कोर्स के लिए ₹15,000 से ₹80,000 प्रति वर्ष लग जाती है, वही बीएससी डायलिसिस कोर्स के लिए ₹30,000 से ₹1,00,000 हर साल फीस देना पड़ता है, और एमएससी डायलिसिस में ₹30,000 से ₹1,50,000 प्रति साल फीस लग जाता है।

ध्यान रहे, यहां पर औसतन कोर्स फीस बताई गई है। प्रत्येक कॉलेज अपने रेपुटेशन और दूसरी चिंजो विचार करके कोर्स फीस तय करते है।

यह पढ़े:

BOT Course Details (Occupational therapy)

CHO ka full form & full Details

PGDMLT Course Details

NEET के बिना 12 वीं के बाद मेडिकल कोर्स

Best Dialysis Colleges in India

देशभर में कई सारे कॉलेज और यूनिवर्सिटीज है जो डायलिसिस की कोर्स करवाते है। आप अपने आसपास के किसी भी कॉलेज में एडमिशन ले सकते है लेकिन, एडमिशन से पहले उस कॉलेज के बारे में अच्छे से जांचपड़ताल कर लेनी चाहिए ताकि आगे चलकर कोई समस्या न आये।

यहां हमने कुछ कॉलेज के नाम बताये है अगर आप चाहो तो इसके बारे में जानकारी प्राप्त करने के पश्चात एडमिशन ले सकते है;

• Uttar Pradesh University of Medical Sciences, Saifai, Uttar Pradesh
• Integral University, Lucknow, Uttar Pradesh
• Institute of Medical Sciences, BHU
Varanasi, Uttar Pradesh
• Rabindranath Tagore University
Bhopal, Madhya Pradesh
• Swami Vivekanand University
Sagar, Madhya Pradesh
• Swami Rama Himalayan University
Dehradun, Uttarakhand
• Institute of Paramedical Science and Management
Dwarka, Delhi
• Institute of Public Health and Hygiene
Mahipalpur, Delhi
• Indira Gandhi Institute of Medical Sciences, Patna, Bihar
• St. John’s National Academy of Health Sciences, Bangalore, Karnataka
• Christian Medical College, Vellore
Vellore, Tamil Nadu
• Govt. Medical College (GMC) , Kottayam, Kerala
• Institute of Post Graduate Medical Education and Research, Kolkata, West Bengal

Dialysis Course ke Baad kya Kare

अगर आप सोच रहे है कि Dialysis course के scope क्या है तो आपको बता दे, यह कोर्स पूरा होने के पश्चात विद्यार्थियों के लिए मेडिकल क्षेत्र में अपार संभावनाएं मिलना प्रारंभ हो जाते है। डायलिसिस के डिग्री धारकों की मांग विदेशों में भी काफी अधिक है।

डायलिसिस कोर्स पूरा होने के पश्चात उम्मीदवार निम्नलिखित नौकरियों के लिए आवेदन कर सकते है;

• डायलिसिस थेरेपिस्ट
• नेफ्रोलॉजिस्ट
• डायलिसिस टेक्नीशियन
• प्रोफेसर
• रिसर्चर
• मेडिकल लेबोरेटरी असिस्टेंट
• क्लीनिकल को-ऑर्डिनेटर
• थेरपेउटिक असिस्टेंट
• मेडिकल अटेंडेंट
• डायलिसिस असिस्टेंट

Dialysis Course Salary

डायलिसिस कोर्स की सैलरी कई सारे चिंजो के ऊपर निर्भर करती है। जैसे उम्मीदवार कौन सी डिग्री की है, कौन से पोस्ट में काम करती है, सेक्टर कौन सा है, काम की एक्सपीरियंस है कि नहीं इत्यादि।

अगर हम डायलिसिस कोर्स के बाद सैलरी की बात करे आमतौर पर औसतन ₹2,00,000 से ₹6,00,000 वार्षिक सैलरी मिलती है इंडिया में, और विदेशों में इससे कई गुना अधिक सैलरी मिलते है।

निष्कर्ष: जो विद्यार्थी 12वी के बाद Dialysis Course करना चाहते है उनके लिए इस लेख में Dialysis Course Details in Hindi के बारे में बताई गई है।

यहां हमने कोशिश की है कि आपको डायलिसिस कोर्स से जुड़े सारी जानकारी एक ही जगह मिल जाये ताकि दूसरी बार आपको इंटरनेट में सर्च करने की आवश्यकता न पड़े। आशा करते है आपको आज की लेख पसंद आई है, अगर पसंद आई है तो अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और व्हाट्सऐप जैसे सोशल मीडिया में ज्यादा से ज्यादा शेयर करे ताकि उन्हें Dialysis course के बारे में पता चले।

अगर आप कोर्स और करियर से जुड़े जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो हमारे ब्लॉग फुट्यूरेबनाये को सब्सक्राइब करे एबं हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े ताकि आपको नई नई करियर ऑप्शन के बारे में पता चले।

दूसरे मेडिकल कोर्स:

होटल मैनेजमेंट कोर्स

MBBS Doctor कैसे बने

BHMS Course Details

BAMS Course Details

BDS Course Details

लैब टेक्नीशियन कैसे बने

X ray technician कैसे बने

BPT Course Detail

D pharma Course Details

GNM Course Details

DMLT Course Details

Pharmacist Course Details

Radiology Course Details

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Telegram