BSTC Kya Hai, फूल फॉर्म, योग्यता, आयु, सिलेबस, काउंसलिंग

BSTC Kya Hai: Basic School Teaching Certificate को ही BSTC ही कहा जाता है। यह दो साल की कोर्स है जिसमे प्राइमरी शिक्षक बनने वाले उम्मीदवारों को शिक्षा प्रदान किया जाता है।

अगर आप कक्षा एक से लेकर कक्षा पांच के शिक्षक बनना चाहते है तो आपके लिए BSTC Course बहुत ही महत्वपूर्ण बन जाते है। इस कोर्स के बिना आपके यह सपना साकार नहीं हो सकता।

इसलिए यदि आप बीएससिटी कोर्स के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो आप बिलकुल सही जगज पर आए है इस लेख में हम BSTC ka full form, BSTC क्या है, बीएससिटी के योग्यता, एडमिशन प्रक्रिया, बीएसटीसी की फीस कितनी है, इसके स्कोप, नौकरी, सैलरी, आदि के बारे में जानेंगे।

BSTC Kya Hai

Basic School Teaching Certificate कोर्स की संक्षेप में BSTC कहा जाता है। हिंदी ने जिसका मतलब है “बुनियादी स्कूल शिक्षण प्रमाणपत्र”। 2019 के पश्चात इस कोर्स का नाम बदलकर D.El.Ed कर दिया गया है।

यह दो साल की एक शिक्षक प्रशिक्षण कोर्स है जिसमे यह सिखाया जाता है की कैसे प्राथमिक विद्यालय के विद्यार्थियों को शिक्षा प्रदान करना चाहिए ताकि बच्चों की मानसिक, दैहिक तथा शैक्षणिक विकास बेहतर से बेहतर हो।

BSTC kya Hai, BSTC full form in hindi
BSTC kya Hai

बीएससिटी कोर्स करने के लिए विद्यार्थियों को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से न्यूनतम 12वीं पास करना पड़ता है उसके बाद या तो मेरिट के आधार पर अन्यथा एंट्रेंस एग्जाम देकर कोर्स में एडमिशन ले सकते है।

बीएसटीसी कोर्स पूरा करने से उम्मीदवार शिक्षक नहीं बन जाते उन्हें सिर्फ शिक्षक बनने का योग्यता हासिल होता है। राजस्थान में बीएससिटी कोर्स की मांग बहुत ही अधिक है।

आशा करते है BSTC क्या है उसके बारे में आपको थोड़ा समझ आ गया होगा। अब आइए बीएससिटी के पूरा नाम और बीएसटीसी कोर्स के योग्यता के बारे में जान लेते है।

BSTC full form in Hindi

BSTC ka full form है ‘Basic School Teaching Certificate’ हिंदी में इसे ‘बुनियादी स्कूल शिक्षण प्रमाणपत्र’ कहते है। यह दो साल की टीचर ट्रेनिंग कोर्स है। इन दो सालों में कुल चार सेमेस्टर आयोजित होती है, प्रत्येक छह महीने में।

इंसमे विद्यार्थियों को मेन्टल एबिलिटी, जनरल नॉलेज (राजस्थान के), हिंदी, संस्कृति, इंग्लिश तथा टीचिंग एप्टीट्यूड के शिक्षा प्रदान किया जाता है

BSTC के लिए योग्यता

बीएससिटी कोर्स के लिए योग्यता की बात करे तो उम्मीदवारों को न्यूनतम 12वीं पास करना होगा या तो केंद्रीय सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त अन्यथा राज्य सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त किसी भी बोर्ड से।

इस कोर्स में दाखिला लेने हेतु सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों के लिए 12वीं में कम से कम 50 फीसदी नंबर प्राप्त करना अनिवार्य है। वही आरक्षण वर्ग के लिए नियमानुसार नंबर में पांच प्रतिशत छूट मिलता है।

इसके अतिरिक्त बीएससिटी कोर्स करने वाले विद्यार्थी के न्यूनतम आयु 18 वर्ष और सर्वाधिक आयु 28 वर्ष अंदर होना अनिवार्य है।

महत्वपूर्ण लेख:

BSTC Course Admission Process

बीएससिटी कोर्स में मुख्यतः एंट्रेंस एग्जाम के माध्यम एडमिशन लिया जाता है। इसके लिए राज्य स्तर पर राजस्थान एजुकेशन बोर्ड द्वारा प्री डीएलएड एग्जाम आयोजित किया जाता है। जिसमे उत्तीर्ण होने के पश्चात ऑनलाइन काउंसलिंग में हिस्सा लेना होता।

यदि एग्जाम में अच्छे अंक प्राप्त करते है तो आपके मन पसंद कोई सरकारी कॉलेज में बीएससिटी कोर्स करने का मौका प्राप्त हो जाती है अन्यथा प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन लेने का संभावना रहती है।

एंट्रेंस एग्जाम के अलावा ज्यादातर प्राइवेट कॉलेज में डायरेक्ट एडमिशन मिल जाता है। इस प्रक्रिया से दाखिला लेने के लिए आपको कोई एग्जाम देने की आवश्यकता नहीं है, सीधा कॉलेज में जाकर एडमिशन ले सकते है।

BSTC Course Application Process

BSTC Course में दाखिला लेने के लिए पहले प्री डीएलएड एग्जाम क्रैक करना होगा। राजस्थान सरकार के प्रारंभिक शिक्षा विभाग द्वारा हर साल इस एग्जाम को आयोजित किया जाता है। इंसमे आवेदन करने के लिए इसके ऑफिशियल वेबसाइट (www.predeled.com) पर जाना होगा।

वहां पर ऑनलाइन आवेदन करने का ऑप्शन मिल जाएगा। उस पर क्लिक करके अपना नाम, जन्म दिनांक, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि दर्ज करके रजिस्ट्रेशन करना होगा।

रजिस्ट्रेशन पूरा करने का पश्चात आवेदन करना होगा और जरूरी दस्तावेज (10वीं एडमिट कार्ड, मार्कशीट, पास सर्टिफिकेट, 12वीं के मार्कशीट, पास सर्टिफिकेट, आधार कार्ड, आदि) जाती प्रमाणपत्र (आरक्षण वर्ग के लिए) स्कैन करके अपलोड करना होगा।

इसके बाद आवेदन शुल्क जमा करके फॉर्म सबमिट कर देना है और उसका प्रिंट निकालकर रख लेना है। ऑनलाइन पेमेंट करने के लिए नेटबैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, डेबिट कार्ड, आदि इस्तेमाल कर सकते है।

बीएसटीसी कितने साल का है

बीएसटीसी दो साल की टीचर ट्रेनिंग कोर्स है जिसमे टोटल चार सेमेस्टर होते है, जो हर छह माह के बाद आयोजित किया जाता है। प्रत्येक सेमेस्टर में भिन्न भिन्न सब्जेक्ट्स का अध्ययन करना होता। इसके सिलेबस ले बारे में आपको आगे जानने को मिल जाएगा।

बीएसटीसी की फीस कितनी है

वैसे तो बीएससिटी कोर्स करने के लिए सरकारी कॉलेजों में कम फीस लिया जाता है। परंतु सरकारी कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए एंट्रेंस एग्जाम देना पड़ता है, जो हर विद्यार्थी के लिए आसान नहीं होता।

परंतु प्राइवेट कॉलेज में ऐसा नहीं है, वहां डायरेक्ट एडमिशन मिल जाता है पर अधिक फीस देना होता। आमतौर पर सरकारी कॉलेज में बीएससिटी कोर्स में भर्ती होते समय काउंसलिंग के दौरान ₹3000 रुपये जमा करने होते और प्रति वर्ष ₹16,250 जमा करना होता।

और प्राइवेट कॉलेज की फीस, कॉलेज के हिसाब से भिन्न भिन्न होती है। आमतौर पर इस कोर्स के लिए ₹25,000 से ₹80,000 रुपये लग जाते है। ध्यान रहे यहां हमने औसतन कोर्स फीस के बारे में उल्लेख की है। किसी कॉलेज का वास्तविक फीस जानने के लिए उसके ऑफिशियल वेबसाइट चेक कर सकते है।

यह पढ़े:

BSTC Syllabus in Hindi

SBTC syllabus in Hindi
SBTC Course Syllabus in Hindi

बीएससिटी कोर्स के सिलेबस में टोटल पांच पेपर है जो कुछ इस प्रकार है; मेन्टल एबिलिटी, टीचिंग एप्टीट्यूड, राजस्थान जनरल नॉलेज, लैंग्वेज एबिलिटी (इंग्लिश और हिंदी या संस्कृत)

पेपरटॉपिकक्वेश्चन संख्यानंबर
मेन्टल एबिलिटीरीजनिंग, एनालॉग, रिलेशनशिप., एनालिसिस, आदि50150
टीचिंग एप्टीट्यूडटीचिंग लर्निंग, कंटीन्यूअस एंड कंप्रिहेंसिव इवैल्यूएशन, लीडरशिप, कम्युनिकेशन स्किल, क्रिएटिविटी, इत्यादि50150
जनरल अवेयरनेस (राजस्थान)हिस्ट्री, पोलिटिकल आस्पेक्ट, इकोनॉमिक्स, जियोग्राफी, आर्ट, कल्चर, लिटरेचर, 50150
इंग्लिशआर्टिकल, प्रीपोजीशन, कॉम्प्रीहेंशन, स्पेल्लिंग एरर, टेंस, वोकेबुलरी, वॉइस, नरेशन, 2060
लैंग्वेजहिंदी या संस्कृत (संस्कृत से पढ़ाई करने वाले)3090
टोटल200600

बीएसटीसी काउंसलिंग के लिए कितने नंबर चाहिए

बीएससिटी कोर्स में काउंसलिंग के माध्यम से एडमिशन लेने के लिए विद्यार्थियों को एग्जाम में अच्छे अंक प्राप्त करने होते। यहां आप राजस्थान बीएसटीसी कोर्स के लिए ली जाने वाली एग्जाम के कट ऑफ देख सकते है

कैटेगरीकट ऑफ
जनरल वर्ग430 – 445
एससी वर्ग370 – 410
ओबीसी वर्ग370 – 410
एसटी वर्ग380 – 425

Best BSTC Colleges

वैसे तो कई सारे सरकारी तथा गैर सरकारी बीएससिटी कॉलेज है पर यहां हमने सिर्फ कुछ ही कॉलेज के नाम बताये है जहां से आप इस कोर्स को कर सकते है।

• जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान, नागौर

• महाप्रभु स्वामी रामचरण कन्या विद्यापीठ, भीलवाड़ा

• जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान, अजमेर

• मोथेरलैंड टीचर ट्रेनिंग स्कूल, टोंक

• आर्य विद्यापीठ महिला टीचर ट्रेनिंग कॉलेज, भरतपुर

• श्री कृष्णा एजुकेशनल इंस्टीट्यूट, भरतपुर

• महाराणा प्रताप शिक्षा प्रशिक्षण स्कूल, धौलपुर

• विवेकानंद शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय, करौली

• राजस्थान कॉलेज फ़ॉर टीचर ट्रेनिंग, बीकानेर

• गुरुनानक खालसाशिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय, हनुमानगढ़

• इंदिरा गांधी बालिका निकेतन शिक्षक प्रशिक्षण विद्यालय, झुंझुनूं

• श्रीगंगानगर शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय, श्रीगंगानगर

• शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय, अलवर

ध्यान रहे, यहां हमने कुछ कॉलेज के नाम बताये है पर ऐसे कई सारे कॉलेज है जहां से आप इस कोर्स को कर सकते है।

BSTC के बाद क्या करे

जैसे ही आप बीएसटीसी कोर्स पूरा कर लेते है, आपको प्राथमिक शिक्षक बनने का योग्यता हासिल हो जाता है पर शिक्षक बनने के लिए राज्य सरकार द्वारा आयोजित REET Exam देना होता और केंद्रीय स्कूलों में शिक्षक बनने के लिए CTET का एग्जाम पास करना अनिवार्य है।

यदि आप बीएसटीसी कोर्स करने के अतिरिक्त हायर स्टडी करना चाहते है तो आप अपने मन पसंद कोई भी सब्जेक्ट से ग्रेजुएशन कर सकते है।

BSTC Course Details in Hindi

• बीएसटीसी काउंसलिंग फीस कितनी है?

बीएससिटी कोर्स में दाखिला लेने हेतु ऑनलाइन काउंसलिंग में हिस्सा लेना होता जिसके लिए पहले ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करना करना अनिवार्य है।

रजिस्ट्रेशन करने के पश्चात चॉइस फिलिंग करने का ऑप्शन मिलता है। उसी दौरान ₹3000 रुपये का ऑनलाइन भुगतान करना होता जिसे नेटबैंकिंग के माध्यम से जमा किया जा सकता है।

• BSTC के लिए योग्यता Age?

 बीएसटीसी कोर्स में दाखिला लेने के लिए उम्मीदवारों का न्यूनतम आयु 18 वर्ष और सर्वाधिक आयु 28 वर्ष के अंदर होना चाहिए।

• बीएसटीसी में कितने नंबर चाहिए?

बीएसटीसी कोर्स में एडमिशन के लिए जनरल वर्ग के उम्मीदवारों को 12वीं में कम से कम 55 प्रतिशत नंबर प्राप्त करना होता और आरक्षण वर्ग के लिए नंबर में नियमानुसार छूट प्रदान किया जाता है।

• बीएसटीसी में पास होने के बाद क्या करना पड़ता है?

बीएसटीसी कोर्स में पास होने के बाद उम्मीदवारों को प्राथमिक शिक्षक बनने का योग्यता हासिल होता है पर शिक्षक नहीं बनते। शिक्षक बनने के लिए रीट एग्जाम पास करना पड़ता है।

निष्कर्ष: आज की लेख में हमने BSTC Course के बारे में चर्चा की है। आशा करते है आपको यह समझ आ गया होगा कि BSTC fu form in hindi में क्या हित है, BSTC kya Hai, बीएसटीसी की फीस कितनी है, बीएससिटी कोर्स के योग्यता, काउंसलिंग, BSTC syllabus in Hindi आदि।

यदि आपको आज जानकारी पसंद आई है तो अपने दोस्तों के साथ इस लेख को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे ताकि उन्हें भी बीएसटीसी कोर्स के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त हो सके।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। इसलिए, कृपया आप अपना राय कमेंट सेक्शन में अवश्य दें। और अगर कोर्स और करियर जुड़े जानकारी चाहिए तो हमारे ब्लॉग FutureBanaye.com का ऑफिशियल टेलीग्राम चैनल से जुड़े जहां आपको एजुकेशन से जुड़े जानकारी प्राप्त होता रहेगा।

यह पढ़े:

दोस्तों के साथ शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *