BNYS Course Details: योग्यता, फीस, नौकरी, सैलरी की डिटेल्स

BNYS Course Details in Hindi: आगर आप किसी कारण से एमबीबीएस, बीएएमएस, बीएचएमएस जैसे कोर्स नहीं कर पाए है तो कोई बात नहीं मेडिकल क्षेत्र में इन कोर्स के अलावा और भी कई सारे कोर्स है जिसके माध्यम से आप डॉक्टर बन सकते है।

उन में से एक है BNYS Course. इंसमे योगा और नेचुरोपैथी चिकित्सा पद्धति के बारे में शिक्षा प्रदान किया जाता है। यह एक ऐसा कोर्स है जिसकी ओर नई पीढ़ियों के स्टूडेंट्स का रुझान बढ़ रही है।

इसके सबसे बड़ी वजह है, लोगों की एक बड़ी तादाद को यह समझ आ गया है कि रोगों को योग और प्राकृतिक संसाधनों का इस्तेमाल करके की इलाज किया जा सकता है। जो पूरी तरह से सुरक्षित होती है और इंसमे मेडिसिन की दुष्प्रभाव की कोई चिंता नहीं होती।

इसलिए आज के समय बहुत से लोग नेचुरोपैथी चिकित्सा की ओर रुख कर रहे है और किसी दूसरे चिकित्सा से अधिक प्राथमिकता नेचुरोपैथी को ही दे रहे है।

लोगों की इस बढ़ती रुझान को देखते हुए स्टूडेंट्स के में BNYS Course को लेकर जागरूकता बढ़ रही है। और सरकारी भी ऐसे कोर्स को बढ़ावा दे रहे है। अगर आप बीएनवाईएस कोर्स के बारे में जानना चाहते है आज की लेख में आपका स्वागत है।

इस लेख में BNYS Course Details के सारे बारीकियां के बारे में आप से रूबरू करवाएंगे जैसे कि BNYS क्या है, बीएनवाईएस कोर्स के लिए योग्यता, इसके एडमिशन प्रक्रिया, एंट्रेंस एग्जाम, कोर्स की फीस, सिलेबस, बेस्ट कॉलेज, स्कोप, सैलरी, आदि।

कृपया आप इस लेख को ध्यानपूर्वक आखरी तक पढ़े। आशा करते है बीएनवाईएस कोर्स से जुड़े कोई भी सवाल आपके मन में नहीं रहेगा।

BNYS Course Details in Hindi, BNYS Course
BNYS Course Details in Hindi

BNYS Course Details in Hindi

बैचलर ऑफ नेचुरोपैथी एंड योगिक साइंस को हम बीएनवाईएस के नाम से जानते है। हिंदी में जिसका मतलब है “प्राकृतिक चिकित्सा और योगिक विज्ञान में स्नातक” यह साढ़े पांच साल की कोर्स है जिसमे एक साल की इंटर्नशिप शामिल है।

इस कोर्स में प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति और योग के द्वारा रोगों का इलाज कैसे किया जाता है उसके बारे में थ्योरी तथा प्रैक्टिकल शिक्षा प्रदान किया जाता है।

इंसमे ह्यूमन एनाटोमी, फिजियोलॉजी, पैथोलॉजी, योगा, नेचरकेअर, एक्यूप्रेशर, माइक्रोबायोलॉजी, बायोकेमिस्ट्री, हैड्रोथेरपी, मैग्नेटो थेरेपी, पीडियाट्रिक, मॉडर्न डायग्नोस्टिक मेथड, फॉरेंसिक मेडिसिन एंड टॉक्सिकोलॉजी, आदि सब्जेक्ट्स के बारे में पढ़ाया जाता है।

साढ़े चार साल की बीएनवाईएस कोर्स के पश्चात ऐसे पेशेवरों को सरकारी तथा निजी क्षेत्र में नेचुरोपैथी डॉक्टर के रूप में काम करने का अवसर प्राप्त होती है। इसके अलावा जैसे जैसे योगा और नेचुरोपैथी विश्वभर में उजागर हो रहे है वैसे वैसे ऐसे अभ्यर्थियों की मांग विदेशों में तेजी से बढ़ रही है।

इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए विद्यार्थियों को साइंस लेकर 12वीं पास करना पड़ता है। इसके बाद NEET Exam को पास करके बीएनवाईएस में एडमिशन ले सकते है। हालांकि कुछ राज्य में स्टेट एंट्रेंस एग्जाम के द्वारा भी एडमिशन लिया जाता है।

यह पढ़े:

BNYS Course Specialization

बीएनवाईएस कोर्स के अंतर्गत कई सारे स्पेशलिजेशन कोर्स है जैसे कि;

  • न्यूट्रिशन थेरेपी
  • एक्यूपंक्चर
  • हर्बल/बोटानिकल मेडिसिन
  • नेचुरल चाइल्डबर्थ
  • होम्योपैथिक मेडिसिन

BNYS Course Eligibility (बीएनवाईएस कोर्स के योग्यता)

दूसरे कोर्स की तरह बीएनवाईएस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए न्यूनतम कुछ योग्यता से गुजरना पड़ता है, जिसके बिना कोई भी इस कोर्स में दाखिला नहीं ले सकते।

• इनमें सबसे महत्वपूर्ण है विद्यार्थियों को 12वीं में साइंस लेकर पढ़ाई करनी होगी जिसमें फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी का सब्जेक्ट्स होना अनिवार्य है।

• इसके अलावा उम्मीदवारों को 12वीं में कम से कम 50 फीसदी नंबर प्राप्त करना होता। आरक्षण वर्ग के लिए 5 नंबर की छूट प्रदान की जाती है।

• बीएनवाईएस कोर्स करने वालों का न्यूनतम आयु 17 साल होना चाहिए। इंसमे सर्वाधिक आयु की कोई सीमा नहीं है।

• इस कोर्स में एडमिशन के लिए स्टेट और नेशनल लेवल पर एंट्रेंस एग्जाम आयोजित किया जाता है जिसमे विद्यार्थियों को उत्तीर्ण होना अनिवार्य है।

BNYS Course Admission Process

BNYS Course में एडमिशन मुख्यतः एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर लिया जाता है। ज्यादातर कॉलेज में एडमिशन के लिए NEET क्वालीफाई करना जरूरी है। हालांकि कुछ कॉलेजों में एडमिशन के लिए स्टेट द्वारा आयोजित की जाने वाली एंट्रेंस एग्जाम क्वालीफाई करना पड़ता है।

जिन अभ्यर्थी एंट्रेंस एग्जाम में अच्छे रैंक हासिल करते है उन्हें ऑनलाइन काउंसलिंग में हिस्सा लेना होता। इसके लिए पहले ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करना होगा और क्रमानुसार कॉलेज का चुनाव करना होगा।

एंट्रेंस एग्जाम में अच्छे अंक प्राप्त करने वाले उम्मीदवारों को सरकारी तथा गैर सरकारी कॉलेज में काउंसलिंग के माध्यम से सीट प्राप्त हो जाती है। इसके अलावा नीट क्रैक करने वाले अभ्यर्थियों के लिए प्राइवेट कॉलेज में डायरेक्ट एडमिशन लेने का भी सुविधा उपलब्ध होती है।

BNYS Course Application Process

ज्यादातर विद्यार्थी नीट एग्जाम के माध्यम से BNYS Course में एडमिशन लेते है। नीट एग्जाम में हिस्सा लेने हेतु NEET के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर पहले रजिस्ट्रेशन करने के पश्चात आवेदन करना होता।

रजिस्ट्रेशन के लिए पहले NEET की ऑफिशियल वेबसाइट को ओपन कर लीजिए, वहां Apply Online का ऑप्शन मिलेगा, उस पर क्लिक करके अपना नाम, डेट ऑफ बर्थ, आधार नंबर, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि प्रदान करके रजिस्ट्रेशन पूरा कर लीजिए।

जैसे ही रजिस्ट्रेशन पूरा होता है आपके मोबाइल नंबर पर यूजर आईडी और पासवर्ड प्राप्त हो जाते है जिसके जरिये लॉगिन करके आवेदन प्रक्रिया पूरा करना होता। आवेदन करते समय उम्मीदवार का शैक्षणिक योग्यता, एड्रेस, आदि दर्ज करना होता और जरूरी दस्तावेजों की स्कैन कॉपी अपलोड करना होता।

इसके पश्चात आवेदन शुल्क जमा करके आवेदन प्रक्रिया कंपलीट करना होगा। इंटरनेट बैंकिंग, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, बैंक चालान, आदि के माध्यम से आप आवेदन शुल्क जमा कर सकते है। जैसे ही सारे प्रॉसेस कंपलीट हो जाये आवेदन पत्र का प्रिंट निकालकर रख लीजिए।

BNYS Course Duration (बीएनवाईएस के अवधि)

बीएनवाईएस कोर्स के समयावधि है साढ़े पांच साल जिसमे साढ़े चार साल की थ्योरी और प्रैक्टिकल शिक्षा प्राप्त करना होता और बाकी के एक साल इंटर्नशिप करना होता।

BNYS Course Syllabus in Hindi

बीएनवाईएस कोर्स के साढ़े चार की एकेडमिक करियर में अलग अलग सब्जेक्ट्स के बारे में पढ़ना होता जिसके बारे में हमने विस्तार से चर्चा की है;

BNYS Course 1st Year Syllabus

सब्जेक्टथ्योरीप्रैक्टिकल
ह्यूमन एनाटोमी100100
ह्यूमन फिजियोलॉजी100100
ह्यूमन पैथोलॉजी100100
फिलॉसफी ऑफ योगा100100
योगा कल्चर100100
फिलॉसफी ऑफ नेचरकेअर100100

BNYS Course 2nd Year Syllabus

सब्जेक्टथ्योरीप्रैक्टिकल
ह्यूमन माइक्रोबायोलॉजी100100
बायोकेमिस्ट्री100100
हाइड्रो थेरेपी100100
फंडामेंटल ऑफ आयुर्वेद100100
कम्युनिटी मेडिसिन100100
फास्टिंग न्यूट्रिशन डायटेटिक्स100100
फिजियोथेरेपी100100

BNYS Course 3rd Year Syllabus

सब्जेक्टथ्योरीप्रैक्टिकल
एक्युप्रेशर100100
योगा थेरेपी100100
मैग्नेटो थेरेपी100100
एक्यूपंक्चर100100
गायनेकोलॉजी एंड आब्सटेट्रिक्स100100
पीडियाट्रिक100100
फिजिकल एक्सरसाइज एंड फिटनेस100100

BNYS Course 4th Year Syllabus

सब्जेक्टथ्योरी
मैनेजमेंट ऑफ डिजीज थ्रू योगा100
मैनेजमेंट ऑफ योगा थ्रू नेचुरोपैथी100
डायग्नोस्टिक मेथड ऑफ योगा100
फॉरेंसिक मेडिसिन एंड टॉक्सिकोलॉजी100
मॉडर्न डायग्नोस्टिक मेथड100
क्रोमा थेरेपी एंड मैनिपुलेटिव थेरेपी100

BNYS Course Fees (बीएनवाईएस कोर्स की फीस)

BNYS Course की फीस अलग अलग कॉलेज में अलग अलग होती है। सरकारी कॉलेजों में इस कोर्स की फीस बहुत कम होती है परंतु किसी भी प्राइवेट कॉलेज में इसकी की फीस बहुत ज्यादा होती है।

बीएनवाईएस कोर्स की औसतन फीस देखा जाए तो सरकारी कॉलेज में हर साल लगभग ₹5000 तक होती है। वही प्राइवेट कॉलेज में हर साल ₹1,50,000 से ₹2,00,000 का फीस लग जाते है।

ध्यान रहे यहां हमने बीएनवाईएस कोर्स के औसतन फीस के बारे में बताये है। अगर आपको किसी भी कॉलेज का वास्तविक फीस जानना है तो उस कॉलेज के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर चेक कर सकते है।

यह पढ़े:

Best BNYS Colleges in India

इंडिया में कई सारे सरकारी तथा प्राइवेट कॉलेज है जहां से आप बीएनवाईएस कोर्स को कर सकते है। आप अपने आवश्यकता अनुसार किसी भी कॉलेज में एडमिशन ले सकते है। परंतु ध्यान रहे ज्यादातर कॉलेज में एडमिशन के लिए नीट एग्जाम क्वालीफाई करना पड़ता है।

यहां हमने कुछ कॉलेज के नाम बताये है जहां से आप बीएनवाईएस कोर्स कर सकते है;

  • इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी, वाराणसी, उत्तर प्रदेश
  • डॉक्टर एनटीआर यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंसेज, विजयवाडा, आंध्र प्रदेश
  • मोरारजी देसाई इंस्टीट्यूट ऑफ नेचुरोपैथी एंड योगा साइंस, वडोदरा
  • पिटी दीनदयाल उपाध्याय मेमोरियल हेल्थ साइंसेज एंड आयुष यूनिवर्सिटी ऑफ छत्तीसगढ़, रायपुर, छत्तीसगढ़
  • स्वास्थ्य कल्याण इंस्टीट्यूट ऑफ नेचुरोपैथी एंड योगी साइंस, जयपुर, राजस्थान
  • स्वामी विवेकानंद योगा अनुसंधना संस्थाना, जे. बिंगीपुरा, कर्नाटक

BNYS Course के बाद क्या करे (BNYS Course Scope)

बीएनवाईएस एक पेशेवर कोर्स होने के नाते इसके डिग्री धारकों को सरकारी तथा निजी क्षेत्र में नौकरी करने का अवसर प्राप्त होती है। इसके अलावा अगर कोई चाहे तो हायर स्टडी कर सकते है। हायर स्टडी करने के लिए बहुत से कोर्स जिसे करके आप अपने करियर को स्केल कर सकते है।

BNYS Course के बाद पढाई

  • एमडी इन हॉस्पिटल मैनेजमेंट
  • एमबीए इन हेल्थकेयर मैनेजमेंट
  • एमडी इन नेचुरोपैथी
  • एमडी इन योगा
  • डिप्लोमा इन् ऑब्सटेट्रिक्स एंड गायनेकोलॉजी
  • एमडी इन ऑस्टियोपॅथी

इन कोर्स के अलावा बीएनवाईएस डिग्री धारकों के लिए और भी कई सारे कोर्स है जिसे करके करियर को स्केल किया जा सकता है। और जिन अभ्यर्थी कर्म जीवन में पदार्पण करना चाहते है उनके लिए निम्नलिखित कुछ शानदार करियर ऑप्शन दिया हुआ है;

BNYS Job Sector & Profile

बीएनवाईएस कोर्स किये हुए उम्मीदवारों का मांग हमारे देश के अलावा विदेशों में काफी अधिक है। ऐसे पेशेवरों को सरकारी तथा गैर सरकारी अस्पतालों में नेचुरोपैथी डॉक्टर के रूप में नियुक्त किया जाता है।

बीएनवाईएस डिग्री धारक अस्पताल के साथ नर्सिंग होम, प्राइवेट क्लिनिक, नेचुरोपैथी कंसलटेंट, योगा कंसलटेंट, मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव, आदि के रूप में अपना करियर संवार सकते है।

BNYS Course Salary (बीएनवाईएस कोर्स के बाद सैलरी)

बीएनवाईएस कोर्स किये हुए अभ्यर्थी को सैलरी कितना मिलेगा यह उनके जॉब प्रोफाइल, जॉब सेक्टर तथा एक्सपीरियंस से आधारित होती है। अगर कोई सरकारी क्षेत्र में नौकरी करते है तो सुरुआत सैलरी ₹40,000 से ₹45,000 के बीच होता।

और प्राइवेट क्षेत्र में ₹25,000 से ₹35,000 के बीच सैलरी प्राप्त होती है। समय के साथ जैसे जैसे एक्सपीरियंस बढ़ते है सैलरी में बढ़ोतरी होती है।

निष्कर्ष: आज की लेख में हमने BNYS Course Details in Hindi में विस्तार से चर्चा की है। जहां आपको पता चला है कि बीएनवाईएस कोर्स होता क्या है, BNYS full form in Hindi में क्या है, एडमिशन कैसे मिलेगा, फीस कितना होगा, सिलेबस क्या है, नौकरी कौन सी मिलेगी, सैलरी कितना होगा, इत्यादि।

आशा करते है आपको यह जानकारी पसंद आई होगी। अगर पसंद आई है तो अपने दोस्तों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करे ताकि उन्हें भी BNYS Course के बारे में अच्छे से पता चले और करियर को सही दिशा देने में मदत मिले।

अगर आपके मन मे बीएनवाईएस कोर्स से जुड़े कोई भी सवाल है तो कमेंट सेक्शन में पूछ सकते है। और यदि हमारे लिए कोई भी सुझाव है तो कृपया वह भी प्रदान कार्ड ताकि हम अपने कंटेंट को सुधार कर सके।

ऐसे ही कोर्स और करियर से जुड़े जानकारी के लिए आप हमारे ब्लॉग FutureBanaye.com को विजिट करते रहिए और हमारे साथ जुड़ने के लिए हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े।

यह पढ़े:

दोस्तों के साथ शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *