BFA Course Details, योग्यता, आयु, फीस, सिलेबस, नौकरी, सैलरी

BFA Course Details in Hindi: क्या आप रचनात्मक इंसान है? और इसी क्षेत्र में आप अपना भविष्य संवारना चाहते है? परंतु इसके लिए कौन सा कोर्स करना चाहिए इसके बारे में अगर आपको पता नहीं तो बिल्कुल टेंशन मत लीजिए।

क्योंकि, आज हम ऐसे विद्यार्थियों को एक ऐसी कोर्स से रूबरू कराएंगे जिसे करके वह अपने सृजनशीलता को शिखर पर लेकर जा सकते है। जी हां, उस कोर्स का नाम है BFA Course जिसे हम Bachelor of Fine Art कोर्स के नाम से जानते है।

BFA Course Details,BFA Course Details in Hindi
BFA Course Details

यह एक ऐसे कोर्स है जिसके माध्यम से विद्यार्थी अपने हुनर और काबिलियत को वास्तविक रूप प्रदान कर सकते है। यह 3 से 4 साल की कोर्स होते है, हालांकि डिस्टेंस मूड में इसे 2 साल के अंदर पूरी करवाई जाती है।

अगर आपको BFA Course Details में जानना है तो हमारे इस लेख को आखरी तक ध्यानपूर्वक पढ़े यहां हम जानेंगे कि BFA क्या है, बीएफए कोर्स के योग्यता, इसके एडमिशन प्रॉसेस, कोर्स की फीस, सिलेबस, स्कोप, नौकरी, सैलरी, आदि।

BFA Course Details in Hindi

BFA का पूरा नाम है Bachelor of Fine Art हिंदी में जिसे “ललित कला स्नातक” कहते है। यह 3 से 4 साल की अंडर ग्रेजुएट कोर्स है। जिसमे 12वीं के पश्चात एडमिशन लिया जाता है। यह मुख्यतः सृजनशील विद्यार्थियों के लिए एक ग्रेजुएशन डिग्री है।

जिसमे विद्यार्थियों को चित्रण, एनीमेशन, ग्राफिक्स, म्यूजिक, डांस, मूर्तिकला, फोटोग्राफी, जिसे विषयों में अध्ययन करना होता। इस कोर्स में मुख्यतः एंट्रेंस एग्जाम तथा मेरिट के आधार पर एडमिशन लिया जाता है।

इसके फीस ₹25,000 से ₹2,50,000 के बीच होती है। अगर कोई सरकारी कॉलेज से यह कोर्स करते है तो कम फीस देना होता पर प्राइवेट कॉलेजों में लाखों की फीस ली जाती है।

BFA Course किये हुए पेशेवर उम्मीदवारों को एंटरटेनमेंट, मीडिया, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, डिज़ाइन, एनीमेशन जैसे क्षेत्र में काम करने का सुनहरे मौका प्राप्त होती है।

BFA ka full form

BFA ka full form है Bachelor of Fine Art हिंदी में इसे ललित कला स्नातक कहते है। यह एक बैचलर डिग्री है जिसे 12वीं के बाद किया जाता है। इस कोर्स को फूल टाइम, पार्ट टाइम तथा डिस्टेंस एजुकेशन के माध्यम से किया जा सकता है।

BFA Course Eligibility (BFA कोर्स के योग्यता)

हर कोर्स की तरह बीएफए कोर्स करने के लिए भी कुछ मानदंडों से गुजरना पड़ता है, जिसके बारे आप आगे देख सकते है;

  • बीएफए कोर्स करने वाले विद्यार्थियों को किसी भी स्ट्रीम लेकर किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से न्यूनतम 12वीं या इसके समकक्ष कोई कोर्स पास करना होता।
  • उम्मीदवारों को 12वीं में कम से कम 50 फीसदी अंक प्राप्त करना होता। आरक्षण वर्ग के लिए नियमानुसार 5 अंको की छूट प्रदान की जाती है।
  • इस कोर्स में एडमिशन के लिए सर्वाधिक आयु की कोई लिमिट नहीं है परंतु न्यूनतम आयु 17 वर्ष का होना अनिवार्य है।

BFA Course Admission Process

बीएफए कोर्स के एडमिशन प्रक्रिया की बात करे तो इंसमे मुख्यतः तीन तरीके से एडमिशन लिया जाता है; एंट्रेंस एग्जाम, मेरिट के आधर पर, और डायरेक्ट एडमिशन।

  • एंट्रेंस एग्जाम: ज्यादातर सरकारी तथा बड़े बड़े कॉलेज / यूनिवर्सिटीज में एंट्रेंस एग्जाम आयोजित किया जाता है Bachelor of Fine Art कोर्स में एडमिशन के लिए। इसके कुछ प्रसिद्ध एग्जाम है BHU UET, AUCET, UPSEE, ITM NEST, इत्यादि।

जो विद्यार्थी इस एग्जाम में उत्तीर्ण होते है, कॉलेज द्वारा उनके एक मेरिट लिस्ट जारी किया जाता है। अगर लिस्ट में नाम आते है तो दस्तावेजों की वेरिफिकेशन करने के पश्चात कोर्स में एडमिशन ले लिए जाता है।

  • मेरिट के आधार पर एडमिशन: कुछ कॉलेज/यूनिवर्सिटी में 12वीं में प्राप्त नंबर के आधार पर एडमिशन लिया जाता है। ऐसे में उम्मीदवार द्वारा 12वीं में प्राप्त नंबर के बेसिस पर मेरिट लिस्ट जारी की जाती है।

अगर उंसमे नाम निकालते है तो कुछ कॉलेज में पर्सनल इंटरव्यू ली जाती है। इसके पश्चात दस्तावेजों की सत्यापन किया जाता है। जो उम्मीदवार सारे पड़ाव सफलतापूर्वक उत्तीर्ण होते उन्हें एडमिशन मिल जाते है।

  • डायरेक्ट एडमिशन: ज्यादातर प्राइवेट कॉलेजों में पहले आओ पहले प्रवेश के नियम के आधार पर एडमिशन मिलते है। ऐसे में आपको कोई एग्जाम देने की यजे फिर मेरिट में आने की जरूरत नहीं होती।

आप अपने मन पसंद जिस कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते है उसके ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन सीट बुक कर सकते है अन्यथा आप सीधा कॉलेज के साथ संपर्क करके एडमिशन ले सकते है।

BFA Course Duration (बीएफए कोर्स समयावधि)

बीएफए कोर्स की समयावधि है 3 से 4 साल की। हालांकि, डिस्टेंस एजुकेशन में कोर्स की समयावधि होती है 2 साल। ज्यादातर कॉलेज में सेमेस्टर वाइज एग्जाम लिया जाता है, ऐसे में प्रत्येक छह माह में एक सेमेस्टर आयोजित किया जाता है।

महत्वपूर्ण लेख:

BFA Course Syllabus in Hindi

किसी भी कोर्स में एडमिशन लेने से पहले उस कोर्स के सिलेबस के बारे में जानकारी प्राप्त करनी चाहिए। बीएफए कोर्स के सिलेबस के बारे में आप यहां देख सकते है;

BFA Course 1st Year Syllabus

एस्थेटिकप्रेस एडवरटाइजिंग
पेंटिंगकम्पोजीशन पेंटिंग
मथोड्स एंड मटेरियल – iहिस्ट्री एंड एप्रिसिएशन ऑफ आर्ट
पोस्टर डिज़ाइनपोर्ट्रेट पेंटिंग

BFA Course 2nd Year Syllabus

कम्पोजीशनएनवायर्नमेंटल एजुकेशन
सिरेमिक एंड मौलड्सएस्थेटिक
डायमेंशन, स्टोन, वुड करविंगग्राफ़िक्स प्रिंट
मैगज़ीन एडवरटाइजिंगमथोड्स एंड मटेरियल

BFA Course 3rd Year Syllabus

एस्थेटिकप्रिंट मेकिंग
लाइफ स्टडीड्राइंग
मथोड्स एंड मटेरियलइंडियन एस्थेटिक
हिस्ट्री एंड एप्रिसिएशनकम्पोजीशन पेंटिंग

आह रहा बीएफए कोर्स के कुछ कोर सब्जेक्ट्स जो हर कॉलेज में पढ़ाया जाता है। कॉलेज के हिसाब से सब्जेक्ट्स में थोड़ा अंतर हो सकता है।

BFA Course ki Fees

बीएफए कोर्स की फीस भिन्न भिन्न कॉलेज या यूनिवर्सिटीज में भिन्न होती है। इसके अलावा राज्य के हिसाब से भी कोर्स फीस भिन्न हो सकती है। अगर सरकारी कॉलेज की फीस देखा जाए तो यह बहुत कम होती है पर प्राइवेट कॉलेजों में काफी अधिक फीस चार्ज किया जाता है। आमतौर पर बीएफए कोर्स की फीस ₹25,000 से ₹2,50,000 तक होती है।

Best BFA Colleges in India

इंडिया में बहुत से सरकारी तथा निजी कॉलेज है जहां बीएफए कोर्स करवाई जाती है। आप अपने मन पसंद किसी कॉलेज में एडमिशन ले सकते है। यहां हमने कुछ कॉलेज के नाम बताये है;

  • कानपुर इंस्टीटूट ऑफ टेक्नोलॉजी, टिकरिया, उत्तर प्रदेश
  • कॉलेज ऑफ आर्ट, नई दिल्ली, दिल्ली
  • आकृति इंस्टीट्यूट ऑफ फाइन आर्ट, जबलपुर, मध्य प्रदेश
  • सुशांत स्कूल ऑफ आर्ट आर्किटेक्चर, गुड़गांव, हरयाणा
  • गवर्नमेंट कॉलेज ऑफ आर्ट, चंडीगढ़, पंजाब
  • सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ हिमाचल प्रदेश, धर्मशाला, हिमाचल प्रदेश
  • आर्यभट्ट नॉलेज यूनिवर्सिटी, पटना, बिहार
  • कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय, दरभंगा, बिहार
  • गवर्नमेंट कॉलेज ऑफ आर्ट एंड क्राफ्ट, कोलकाता, पश्चिम बंगाल
  • बेंगलोर यूनिवर्सिटी, बेंगलोर, कर्नाटक
  • गवर्नमेंट कॉलेज ऑफ फाइन आर्ट, चेन्नई, तमिलनाडु
  • आंध्र यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड कॉमर्स, विशाखापत्तनम, आंध्र प्रदेश
  • गवर्नमेंट कॉलेज ऑफ फाइन आर्ट, त्रिसूर, केरल
  • गवर्नमेंट डूंगर कॉलेज, बीकानेर, राजस्थान

BFA Course ke Baad kya kare (Scope of BFA)

BFA Course पूरा होने के पश्चात विद्यार्थियों के सामने दो रास्ते होते है; या तो नौकरी कर सकते अन्यथा MFA Course कर सकते है। एमएफए दो साल की पोस्ट ग्रेजुएशन डिग्री होते है। जो विद्यार्थी एजुकेशन तथा रिसर्च के क्षेत्र में अपना भविष्य बनाना चाहते है उनके लिए एमएफए कोर्स करना अत्यंत आवश्यक है।

अगर कोई बीएफए कोर्स के पश्चात नौकरी करना चाहते है तो निम्नलिखित क्षेत्र में ऐसे उम्मीदवारों के मांग कफज अधिक है जहां आप अपने भविष्य संवार सकते है;

BFA Course के बाद जॉब सेक्टर

  • एनीमेशन
  • पब्लिकेशन
  • फ़िल्म
  • टेलीविजन
  • एडवरटाइजिंग एजेंसिस
  • बुटीक
  • टेक्सटाइल
  • डिज़ाइनर
  • एजुकेशन इंस्टीट्यूट्स
  • म्यूज़ियम

BFA Course के बाद नौकरी के पद

बीएफए कोर्स के पश्चात नौकरी की बात करे तो आप निम्नलिखित पद में नौकरी कर सकते है;

  • इंटीरियर डिजाइनर
  • पेंटर
  • आर्ट डीलर
  • बुटीक डिज़ाइनर
  • म्यूजियम क्यूरेटर
  • फ़िल्म कोरियोग्राफर
  • स्कूल टीचर
  • प्रोफेसर
  • इलस्ट्रेटर
  • प्रोडक्ट डिज़ाइनर
  • इंडस्ट्रियल डिज़ाइनर
  • टेक्निकल डिज़ाइनर
  • फाइन आर्टिस्ट
  • एनिमेटर
  • फोटोग्राफर
  • टेक्सटाइल डिज़ाइनर
  • UX डिज़ाइनर
  • एडिटर
  • स्क्रीन राइटर
  • मूर्तिकार
  • ज्वेलरी डिज़ाइनर

Salary After BFA Course (बीएफए कोर्स के बाद सैलरी)

हर स्टूडेंट्स के मन मे सैलरी को लेकर हमेशा जिज्ञासा होती है। अगर आपके मन मे भी यही जिज्ञासा है कि बीएफए कोर्स के बाद सैलरी कितना मिलेगा तो आपके जानकारी के लिए बता दूं, बीएफए कोर्स पूरा होने के पश्चात आप जिस क्षेत्र में काम करेंगे उसी के आधार पर आपको सैलरी प्राप्त होगी।

इसके अलावा काम के अनुभव के हिसाब से भी सैलरी पैकेज तय किया जाता है। फिरभी यदि फ्रेशर्स उम्मीदवारों की बात करे, जिन्होंने अभी अभी बीएफए कोर्स पूरा किये है उन्हें प्रत्येक महीने ₹15,000 से ₹25,000 की सुरुआत सैलरी मिलते। इंसमे समय और अनुभव के साथ वृद्धि होती है।

BFA Course से जुड़े महत्वपूर्ण जानकारियां

• BFA कौन सी डिग्री है?

बीएफए कोर्स एक अंडर ग्रेजुएट कोर्स है। जिसकी समयावधि है 3 से 4 साल, डिस्टेंस मूड में इसे 2 साल के अंदर पूरा किया जाता है। इस कोर्स में पेंटिंग, मूर्तिकला, डांसिंग, म्यूजिक, एनीमेशन, डिजाइनिंग जैसे विषयों के बारे में अध्ययन किया जाता है।

• बैचलर ऑफ फाइन आर्ट्स में क्या पढ़ाया जाता है?

बैचलर ऑफ फाइन आर्ट कोर्स सृजनशील वाले विद्यार्थियों के लिए है। इस कोर्स के माध्यम से विद्यार्थी अपने सृजनसिलता को वास्तविक रूप प्रदान कर सकते है। इस कोर्स में एस्थेटिक, ड्राइंग, ग्राफिक्स प्रिंट, एडवरटाइजिंग, मथोड्स एंड मटेरियल जैसे विषयों के बारे में विस्तृत से चर्चा किया जाता है।

• बीएफए के लिए कौन सी प्रवेश परीक्षा सबसे अच्छी है?

ज्यादातर सरकारी कॉलेज और बड़े बड़े प्राइवेट कॉलेजों में बीएफए कोर्स में एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम आयोजित किया जाता है। आप BHU UET, AUCET, UPSEE, ITM NEST जैसे एग्जाम में हिस्सा लेकर अपने मन पसंद कॉलेज में एडमिशन ले सकते है।

• BFA करने के बाद हम क्या कर सकते हैं?

बीएफए कोर्स करने के पश्चात आप हायर स्टडी कर सकते है अन्यथा चाहो तो नौकरी भी कर सकते है। हायर स्टडी के लिए एमएफए या एमबीए जैसे कोर्स कर सकते है। और नौकरी करने वाले फ़िल्म, डिजाइनिंग, फोटोग्राफी, मूर्तिकला, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट जैसे क्षेत्र में नौकरी कर सकते है।

निष्कर्ष: आज की लेख में हमने BFA Course Details in Hindi में बताये है। आशा करते है आपको जानने मिला है कि असल मे बीएफए होता क्या है, बीएफए कोर्स के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए, इंसमे एडमिशन कैसे मिलते है, इसके सिलेबस क्या होती है, कोर्स की फीस, नौकरी और सैलरी, आदि।

अगर आपको BFA Course से जुड़े जानकारी पसंद आई है तो अपने दोस्तों के साथ इस लेख को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे ताकि उन्हें भी बीएफए कोर्स के बारे में अच्छे से पता चले।

अगर आप एक जिम्मेदार पूर्ण विद्यार्थी है और आप अपने करियर को लेकर चिंतित है तो आप हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े यहां आपको कोर्स और करियर से जुड़े नए नए जानकारी मिलते रहेंगे।

यह पढ़े:

दोस्तों के साथ शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *