Notifications
×
Subscribe
Unsubscribe

BA Subject list in Hindi, बीए कोर्स में कौन कौन से सब्जेक्ट्स होते है

ग्रेजुएशन में पढ़ाई करने हेतु हर स्टूडेंट्स के पसंद अलग अलग होता है, हर कोई गणित या विज्ञान लेकर पढ़ाई नहीं कर सकते। जो भी स्टूडेंट्स 12वी में आर्ट्स लेकर पढ़ाई की है वो बीए के कोर्स में दाखिला लेने के लिए BA Subject list के बारे में जानना चाहते है।

ताकि वह अपने मन पसंद सब्जेक्ट लेकर ग्रेजुएशन कर सके। अगर आप भी बीए के कोर्स करना चाहते है परंतु नहीं जानते कि इंसमे कितने सब्जेक्ट्स है तो आज की आर्टिकल में BA subject list in hindi के बारे में आपको जानकारी दी जाएगी।

BA subject list in Hindi

बीए के अंतर्गत कई सारे सब्जेक्ट्स होते है जिसके बारे में हमने आगे जनेंगे लेकिन उससे पहले बीए कोर्स के बारे में छोटा सा जानकारी बताते चले, BA का पूरा नाम है बैचलर ऑफ आर्ट्स। यह तीन साल की एक स्नातक कोर्स है।

जिसमे अभ्यर्थी 12वी के पश्चात दाखिला ले सकते है। इसके लिए किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वी में कम से कम 45 प्रतिशत नंबर की होना अनिवार्य है या फिर इसके समकक्ष कोई कोर्स करना चाहिए।

BA Subject list in Hindi

उसके बाद दी बीए कोर्स में एडमिशन मिलता। इंडिया में सैकड़ों सरकारी तथा निजी कॉलेज है जहां से यह कोर्स आसानी से किया जा सकता है। तीन साल की कोर्स पूरा होने के पश्चात सरकारी तथा प्राइवेट क्षेत्र में नौकरी करने का अवसर मिल जाता है।

आपको बता दे, बीए में अभ्यर्थियों को अपने मन पसंद सब्जेक्ट चुनने का अवसर मिलते है। हालांकि, कुछ सब्जेक्ट कंपलसरी भी होता जिसे मैन सब्जेक्ट्स के साथ पढ़ना होगा।

BA कौन कौन से सब्जेक्ट्स है

  • हिस्ट्री
  • जियोग्राफी
  • पब्लिक एडमिनिस्ट्रेश
  • इकोनॉमिक्स
  • फिलोज़ोफी
  • साइकोलॉजी
  • एन्विरोमेंटल साइंस
  • इकोलॉजी
  • पोलीटिकल साइंस
  • सोशियोलॉजी
  • जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन
  • एंथ्रोपोलॉजी
  • आर्कियोलॉजी
  • सोशल वर्क
  • फिजिकल साइंस/एजुकेशन
  • रिलीजियस स्टडीज
  • क्रिमिनोलॉजी
  • एलएलबी
  • होम साइंस
  • स्टेटिस्टिक्स
  • फाइन आर्ट्स
  • डिफेंस एंड स्ट्रेटेजिक स्टडीज
  • हिंदी
  • इंग्लिश
  • बांग्ला
  • संस्कृत
  • गुजराती
  • ओड़िया
  • मराठी
  • तमिल
  • स्पैनिश
  • उर्दू
  • अरबी
  • म्यूजिक
  • वोकल म्यूजिक

ध्यान रहे बीए कोर्स के अंदर दो कटेगरी होता है, बीए होनेर्स और बीए जनरल। बीए होनेर्स में किसी एक विषय मे बारीकियों से पढ़ना होता। इसके साथ और दो कंपलसरी सब्जेक्ट्स रखने होते जिसे दो साल तक पढ़ना अनिवार्य है और आखिरी साल में बस मैन सब्जेक्ट की एग्जाम देना होता।

वही बीए जनरल में कुल पांच सब्जेक्ट्स पढ़ना होता जो तीन साल के लिए पढ़ना होता जिसमे टोटल छह सेमेस्टर है, हर सेमेस्टर छह माह के अंतराल में लिया जाता।

यह पढ़े:

Bed क्या है और कैसे करे- पूरी जानकारी

BPED Course Details in Hindi

GNM Nursing course details

ITI Course Details

Bsc agriculture kya Hai-सम्पूर्ण जानकारी

IPS kaise Bane

Bsc की पूरी जानकारी

BA subject list in Hindi

हिस्ट्री: हिस्ट्री एक ऐसा सब्जेक्ट है जिसमे समय के साथ साथ समाज कैसे परिवर्तित हुआ उसके बारे में बताया जाता है। इस सब्जेक्ट से हमे यह समझ आता है कि अतीत में मानव के किये गए कार्य कैसे आज के समाज को प्रभावित कर रहा है, और आने वाले भविष्य को कैसे प्रभावित करने वाले है। और हमें इन प्रभावों का मूल्यांकन करने की अनुमति देता है।

जियोग्राफी: भूगोल एक ऐसी शाखा है जिसमे पर्यावरण, स्थान और लोगों के बीच के संबंध के बारे में जानकारी मिलता। इंसमे पृथ्वी के सतह, भौतिक लक्षण, जलवायु, मौसम, जनसंख्या, इत्यादि के बारे में बारीकियों से पढ़ाया जाता।

भूगोल के अंतर्गत तीन शाखा है जैसे, मानव भूगोल, भौतिक भूगोल और पर्यावरण भूगोल। इन तीनों ही टॉपिक के बारे पढ़ना होता बीए कोर्स करने के दौरान।

पब्लिक एडमिनिस्ट्रेश: इसका मतलब है लोक प्रशासन। यह एक ऐसा शाखा है जिसमे शासकीय नीति के विभिन्न पहलुओं के अमल और उसके विकास के बारे में सिखाई जाती है।

इस कोर्स में मानव तथा समाज कल्याण के लिए ली जाने वाली राजनीतिक गतिविधियां तथा सिद्धांतों के बारे में बारीकियों से पूरी जानकारी दी जाती है।

इकोनॉमिक्स: अर्थशास्त्र एक सामाजिक विज्ञान है जो वस्तुओं और सेवाओं के उत्पादन, वितरण और उपभोग से संबंधित है। इंसमे किसी व्यक्ति, बिजनेस और गवर्मेंट द्वारा ली जाने वाली स्टेप्स जुड़ा हुआ होता है।

फिलोज़ोफी: फिलोज़ोफी का मतलब है दर्शनशास्त्र। यह एक ऐसी शाखा है जिसमे प्रकृति, नैतिकता, सौंदर्यशास्त्र, अस्तित्व, ज्ञान, तर्क और सिद्धांत के सभी तरीकों से संबंधित विचारों का अध्ययन किया जाता है।

साइकोलॉजी: साइकोलॉजी का मतलब है मनोविज्ञान। इंसमे मनुष्यों के मन और व्यवहार से संबंधित अध्ययन करना होता। जैसे, मनुष्य के सोच कैसे काम करते है, उसके अनुसार अनुभव कैसा होता, प्रतिक्रिया कैसे मिलेगा, इत्यादि।

एन्विरोमेंटल साइंस: पर्यावरण विज्ञान एक ऐसी शाखा है जिसमे पर्यावरण के प्रकृति, समस्याएं, और उसके समाधान के बारे में अध्ययन करने हेतु भौतिक, रासायनिक, जीव विज्ञान, खनिज विज्ञान, प्राणिविज्ञान, भूविज्ञान, समुद्र विज्ञान, मुद्रा विज्ञान, भूगोल के सभी प्रकार पहलुओं को जोड़ता है।

इकोलॉजी: इकोलॉजी यानी परिस्थिति विज्ञान जीवों को उनके जीवित और निर्जीव पर्यावरण के साथ संबंध बताती है।

पोलिटिकल साइंस: पोलिटिकल साइंस यानी राजनीति विज्ञान इंसमे घरेलू, अंतर्राष्ट्रीय  राजनीति और शक्ति का अध्ययन है। इसमें राजनीतिक विचारधारा, प्रक्रियाएं, नीतियां, के साथ-साथ समूहों, वर्गों, सरकारी, कानून, कूटनीतिक, रणनीतिक और युद्ध को समझना शामिल है।

सोशियोलॉजी: समाजशास्त्र एक सामाजिक विज्ञान है जिसमे समाज, मनुष्यों के सामाजिक व्यवहार, सामाजिक  संपर्क, संबंध और रोजमर्रा की जिंदगी से जुड़े संस्कृति के पहलुओं के बारे में पढ़ाया जाता।

जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन: जो भी स्टूडेंट्स आगे जाकर अपना करियर पत्रकारिता और दूरदर्शन के क्षेत्र में बनाना चाहते है यह कोर्स उनके लिए सही है। इंसमे पत्रकारिता, डिजिटल मीडिया, रिपोर्टिंग, प्रिंटिंग मीडिया, रेडियो प्रोडक्शन, फ़ोटो जर्नलिज्म, मीडिया कानून, आदि के बारे में पढ़ाया जाता है।

एंथ्रोपोलॉजी: एंथ्रोपोलॉजी यानी मानवशास्त्र या नृविज्ञान इंसमे मनुष्य उसके जेनेटिक्स, समाज, संस्कृति, इत्यादि के बारे में बारीकियों से शिक्षा प्रदान की जाती है।

आर्कियोलॉजी: आर्कियोलॉजी को पुरातत्त्वविद्या के नाम से जाने जाते है। यह वह शास्त्र है जिसमे प्रागैतिहासिक वस्तुओं का अध्ययन किया जाता है।

सोशल वर्क: सोशल वर्क यानी समाजसेवा, इंसमे सामाजिक उन्नति के लिए की जाने वाली समाज कल्याण कार्य प्रक्रिया के बारे में जानना होता।

फिजिकल एजुकेशन: एक ऐसी शाखा है जिसमे छात्रों को शारिरिक फिटनेस, हेल्थ, आत्मविश्वास, के ऊपर खास ध्यान दिया जाता है।

रिलीजियस स्टडीज: इस कोर्स में विभिन्न प्रकार के धर्म, उसके इतिहास, इत्यादि के बारे में शिक्षा प्रदान की जाती है।

क्रिमिनोलॉजी: क्रिमिनोलॉजी में अपराध जुड़े तथ्य का अध्ययन किया जाता है। जैसे किसी अपराध के पीछे का कारण क्या है, अपराध के आंकड़े, उसके रोकथाम, समाधान के उपाय, उससे जुड़े कानून इत्यादि के बारे में पढ़ना होता।

एलएलबी: इंसमे कानूनों का पढ़ाई करना होता। यह कोर्स उन अभ्यर्थियों के लिए है जो आगे जाकर वकील बनना चाहते।

होम साइंस: होम साइंस एक ऐसी शाखा है जिसमे फ़ूड एंड न्यूट्रिट्रिशन, ह्यूमन डेवलपमेंट, रिसोर्स मैनेजमेंट, फिजियोलॉजी, चाइल्ड हेल्थ, कम्युनिकेशन, इत्यादि के बारे पढ़ाया जाता।

स्टेटिस्टिक्स: बीए के इस ब्रांच में कैलकुलस, अलजेब्रा, प्रोबबलिटी और स्टेटिस्टिक्स मेथड्स, सर्वे, नंबर थ्योरी, डाटा कलेक्शन, मैथेमेटिकल मॉडलिंग, इत्यादि के बारे में पढ़ना होता।

फाइन आर्ट्स: अगर किसी का क्रिएटिव फील्ड में करियर बनाने का इच्छा है तो फाइन आर्ट्स उसके लिए बेस्ट ऑप्शन है। इंसमे चित्रकला, मूर्तिकला, थियेटर, डिज़ाइन, विजुअल आर्ट, फोटोग्राफी, इत्यादि रचनात्मक कार्य के बारे में शिक्षा प्रदान की जाती है।

डिफेंस एंड स्ट्रेटेजिक स्टडीज: रक्षा और सामरिक अध्ययन आम तौर पर जियोपॉलिटिकल और मिलिट्री जियोग्राफी, डिफेंस इकोनॉमिक्स, साइंस और टेक्नोलॉजी, संघर्ष प्रबंधन और उसके समाधान, अंतर्राष्ट्रीय कानून और संबंध, परमाणु नीतियां आदि के अध्ययन को शामिल करते हैं।

हिंदी: हिंदी एक साहित्य संबंधित विषय है जिसमे हिंदी भाषा के बारीकियां, उसके व्याकरण, निबंध, आदि के बारे में पढ़ना होता।

इंग्लिश: हिंदी की तरह यह भी एक लिटरेचर सब्जेक्ट है इंसमे ग्रामर, पोएम, essay बगैरह के बारे में पढ़ना होता। जितने भी लिटरेचर है सब्जेक्ट उनमें से इंग्लिश सब्जेक्ट की मांग काफी है।

बांग्ला: यह भी एक लिटरेचर सब्जेक्ट, जो पश्चिम बंगाल का ऑफिशियल सब्जेक्ट है। इस कोर्स की डिमांड मुख्यतः पश्चिम बंगाल में ही है।

संस्कृत: दुनिया के सबसे प्राचीन लैंग्वेज और सुमधुर भाषा है संस्कृत। इसी भाषा मे ही रामायण, महाभारत, उपनिषद जैसे बड़े बड़े महाकाव्य बना है। इस सब्जेक्ट की डिमांड हमारे देश के अलावा विदेशों में भी है।

गुजराती: बांग्ला की तरह गुजराती गुजरात का ऑफिशियल लैंग्वेज है जिसकी डिमांड मुख्यतः गुजरात मे ही है।

ओड़िया: इंसमे ओड़िया लैंग्वेज के बारे में पढ़ाया जाता है जो ओडिशा के ऑफिशियल भाषा है।

मराठी: मराठी मुख्यतः महाराष्ट्र के मातृभाषा है मराठी, इंसमे मराठी भाषा के बारे में बारीकियों से पढ़ाया जाता है।

तमिल: तमिलनाडु के मुख्य भाषा है तमिल, यह भी एक लिटरेचर सब्जेक्ट है जिसमे तमिल लैंग्वेज के बारे में शिक्षित किया जाता है।

स्पैनिश: आज के समय विदेशी भाषा शिखने की डिमांड तेजी से बढ़ रही है। इंसमे स्पैनिश लैंग्वेज सिखाया जाता है।

उर्दू

अरबी

म्यूजिक

वोकल म्यूजिक

निष्कर्ष: आज की इस आर्टिकल में हमने BA subject list के बारे में बात की है। हमे आशा है आपको आज जानकारी पसंद आई होगी। अगर पसंद आई है तो अपने दोस्तों से शेयर करे और कोई सवाल या सुझाव है तो कमेंट सेक्शन में पूछे।

ऐसे ही करियर संबंधित जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग टेलीग्राम चैनल से जुड़े जहां आपको सारे जानकारी मिल जाएगी।

यह पढ़े:

दोस्तों के साथ शेयर करे

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.